गुरूवार, जून 20, 2024
होमInsuranceकोरोंना संकट : इलाज मे लापरवाही पर करे शिकायत,...

कोरोंना संकट : इलाज मे लापरवाही पर करे शिकायत, बीमा कंपनी 2 घंटे मे करेगी निपटारा

बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया : इरडा) ने बढती कोरोंना संकट को देखते हुए नए नियम जारी किया है

- Advertisement -

जिसमे यह कहा गया है कि सभी बीमा कंपनियां कोरोंना इलाज के शिकायत का निबटारा 2 घंटे मे करे, जिसमें मरीजों को किसी प्रकार की दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़े.

इरडा ने जारी नियम मे सभी कंपनियों को सूचना दी है कि वायरस इलाज के लिए कैशलेस उपचार और फाइनल डिस्चार्ज के लिए 2 घंटे मे निर्णय ले, इरडा ने समान्य और स्वस्थ्य बीमा के लिए तुरंत सेटलमेंट के लिए नए अहम मानदंड जारी किया है

जिसमे बीमाधारक पीडित मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े.

इरडा ने कहा कि अस्पताल से मरीज़ को डिस्चार्ज होने के तुरंत 2 घंटे बाद मरीज़ और अस्पताल को अपने फैसले का सूचना देना होगा, बीमाकर्ताओं से कहा गया है कि अपने थर्ड पार्टी एडमिनिस्ट्रेटर्स कुछ महत्त्वपूर्ण दिशानिर्देश जारी करे कि जल्द से जल्द फैसला दे.

इरडा ने मार्च महीने में भी सभी बीमा कंपनियो को निर्देश जारी किया था की कुछ ऐसे कदम उठाए की बीमाकर्ता के दावो के लिए 24 घंटे तैयार रहे.

वित्तमंत्रालय ने देश मे बढती लॉकडाउन को देखते हुए स्वास्थ और वाहन बीमा नवीनीकरण की समय सीमा 15 मई कर दिया था जिसमें बीमाकर्ता को असुविधा का सामना नहीं करना पड़े.

यानी अगर आपके बिना का नवीनीकरण का समय 25 मार्च से 3 मई है तो वह अब 15 मई तक वैध कर दिया गया है. साथ ही यह नियम आगे भी लागू होगा या नहीं यह लॉकडाउन के अनुसार मान्य होगा.

Aadhaar Stambh Policy मात्र 28 रुपए के निवेश से होगा 4 लाख का फायदा

क्लेम कमेटी करेगी रिव्यू

4 मार्च 2020 को इरडा ने अपने जारी निर्देश मे कहा था कि सभी अस्पतालों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी को बढती कोरोंना काल मे यही नियम लागू करना चाहिए.

जिसमे मेडिकल खर्च का निबटारा, मौजूदा पॉलिसी के नियमो और शर्तो के साथ करना चाहिए जिसमें व्यक्ति की क्वारंटीन समय भी सामिल हो, क्लेम कमिटी बिना समीक्षा के किसी भी दावे को अस्वीकार नहीं कर सकती है.

Raksha Bandhan 2020: इस विशेष मुहूर्त में बांधे भाई की कलाई पर राखी

आरोग्य संजीवनी पॉलिसी : कम प्रीमियम

इरडा ने बताया की आरोग्य बीमा पॉलिसी की 29 स्वास्थ्य और समान्य बीमा कंपनियां प्रदान करती है, पॉलिसी देने पे कम्पनी का नाम भी होगा इसमें सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध होगी

उसके साथ इसका प्रीमियम भी बहुत कम होगा. जिसमे कोरोंना मरीज़ को अस्पताल मे भर्ती होने पे बीमा कंपनी की तरफ से उन्हें फ्री कवरेज दिया जाता है.

Term Insurance से अपने परिवार को दें आर्थिक सुरक्षा कवच, कम प्रीमियम मे ज्यादा फायदा

इसी तरह की सभी जानकारियों की अपडेट पाने के लिए निचे दिए लिंक के माध्यम से हमें JOIN करें

📲 फेसबुक पेज पर : यहाँ क्लिक करें। ✔

📲 फेसबुक ग्रुप पर : यहाँ क्लिक करें। ✔

Team || Gopal Kumar

संबंधित खबरें

Rahul
Rahulhttps://nearnews.in
Near News is a Digital Media Website which brings the latest updates from across Bihar University, Muzaffarpur, Bihar and India as a whole.

Most Popular

- Advertisment -
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
होमInsuranceकोरोंना संकट : इलाज मे लापरवाही पर करे शिकायत, बीमा कंपनी 2...

कोरोंना संकट : इलाज मे लापरवाही पर करे शिकायत, बीमा कंपनी 2 घंटे मे करेगी निपटारा

बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया : इरडा) ने बढती कोरोंना संकट को देखते हुए नए नियम जारी किया है

जिसमे यह कहा गया है कि सभी बीमा कंपनियां कोरोंना इलाज के शिकायत का निबटारा 2 घंटे मे करे, जिसमें मरीजों को किसी प्रकार की दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़े.

इरडा ने जारी नियम मे सभी कंपनियों को सूचना दी है कि वायरस इलाज के लिए कैशलेस उपचार और फाइनल डिस्चार्ज के लिए 2 घंटे मे निर्णय ले, इरडा ने समान्य और स्वस्थ्य बीमा के लिए तुरंत सेटलमेंट के लिए नए अहम मानदंड जारी किया है

जिसमे बीमाधारक पीडित मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े.

इरडा ने कहा कि अस्पताल से मरीज़ को डिस्चार्ज होने के तुरंत 2 घंटे बाद मरीज़ और अस्पताल को अपने फैसले का सूचना देना होगा, बीमाकर्ताओं से कहा गया है कि अपने थर्ड पार्टी एडमिनिस्ट्रेटर्स कुछ महत्त्वपूर्ण दिशानिर्देश जारी करे कि जल्द से जल्द फैसला दे.

इरडा ने मार्च महीने में भी सभी बीमा कंपनियो को निर्देश जारी किया था की कुछ ऐसे कदम उठाए की बीमाकर्ता के दावो के लिए 24 घंटे तैयार रहे.

वित्तमंत्रालय ने देश मे बढती लॉकडाउन को देखते हुए स्वास्थ और वाहन बीमा नवीनीकरण की समय सीमा 15 मई कर दिया था जिसमें बीमाकर्ता को असुविधा का सामना नहीं करना पड़े.

यानी अगर आपके बिना का नवीनीकरण का समय 25 मार्च से 3 मई है तो वह अब 15 मई तक वैध कर दिया गया है. साथ ही यह नियम आगे भी लागू होगा या नहीं यह लॉकडाउन के अनुसार मान्य होगा.

Aadhaar Stambh Policy मात्र 28 रुपए के निवेश से होगा 4 लाख का फायदा

क्लेम कमेटी करेगी रिव्यू

4 मार्च 2020 को इरडा ने अपने जारी निर्देश मे कहा था कि सभी अस्पतालों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी को बढती कोरोंना काल मे यही नियम लागू करना चाहिए.

जिसमे मेडिकल खर्च का निबटारा, मौजूदा पॉलिसी के नियमो और शर्तो के साथ करना चाहिए जिसमें व्यक्ति की क्वारंटीन समय भी सामिल हो, क्लेम कमिटी बिना समीक्षा के किसी भी दावे को अस्वीकार नहीं कर सकती है.

Raksha Bandhan 2020: इस विशेष मुहूर्त में बांधे भाई की कलाई पर राखी

आरोग्य संजीवनी पॉलिसी : कम प्रीमियम

इरडा ने बताया की आरोग्य बीमा पॉलिसी की 29 स्वास्थ्य और समान्य बीमा कंपनियां प्रदान करती है, पॉलिसी देने पे कम्पनी का नाम भी होगा इसमें सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध होगी

उसके साथ इसका प्रीमियम भी बहुत कम होगा. जिसमे कोरोंना मरीज़ को अस्पताल मे भर्ती होने पे बीमा कंपनी की तरफ से उन्हें फ्री कवरेज दिया जाता है.

Term Insurance से अपने परिवार को दें आर्थिक सुरक्षा कवच, कम प्रीमियम मे ज्यादा फायदा

इसी तरह की सभी जानकारियों की अपडेट पाने के लिए निचे दिए लिंक के माध्यम से हमें JOIN करें

📲 फेसबुक पेज पर : यहाँ क्लिक करें। ✔

📲 फेसबुक ग्रुप पर : यहाँ क्लिक करें। ✔

Team || Gopal Kumar

RELATED ARTICLES
Rahul
Rahulhttps://nearnews.in
Near News is a Digital Media Website which brings the latest updates from across Bihar University, Muzaffarpur, Bihar and India as a whole.
Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.

Most Popular

- Advertisment -