Wednesday, January 25, 2023

क्या बिहार में फिर से शुरू होगी शराब की दुकानें ? सीआइएबीसी एवं शराब निर्माताओं की अपील!

Sharab Dukan News Bihar : शराब की बिक्री एकबार फिर Bihar में शुरू हो सकती हैं, राज्य के राजस्व में कोरोना वायरस के कारण आये भारी कमी की वजहों से सरकार यह कदम उठा सकटी हैं।

( सीआइएबीसी ) Confederation of India Alcoholic Beverage Companies के द्वारा बिहार के मुख्यमंत्री मंत्री से शराबबंदी को लेकर पुनः विचार किये जाने का आग्रह किया गया हैं।

Bihar Sarkar से सीआइएबीसी ने जिम्मेदार व नियंत्रित तरीके से शराब के व्यापार को पुनः करने को लेकर अनुमति मांगी है।

बता दें कि bihar sharab bandi date 5 अप्रैल 2016 को बिहार सरकार द्वारा Bihar राज्य में शराब का निर्माण, बिक्री, व्यापार, भंडारण एवम परिवहन पर प्रतिबंध लगाया था, विनोद गिरी जो कि संगठन के महानिदेशक है,

ने मुख्यमंत्री को लिखे गए अपने पत्र में शराबबंदी को बिहार में करा फैसला बताते हुए मुख्यमंत्री के फैसले की तारीफ किये और उन्होंने कहा यह अपने उदेश्यों को प्राप्त करने मे सफल रहा हैं लेकिन इसपर अब पुनर्विचार करने का समय आ गया हैं।

यह भी पढ़े :  Bihar Civil Court : नहीं होगी 11 फरवरी से बिहार सिविल कोर्ट की परीक्षा, ऑफिसियल नोटिस जारी, जानें कारण

उन्होंने सरकार से यह भी अनुरोध किया है कि वह निर्धारित दाम से ऊपर के शराब के उत्पादन की बिक्री का अनुमति दें जिससे कि इसे वही खरीद सकेंगे जिनके पास साधन होंगे, गिरी के द्वारा कहा गया है कि सरकार को राज्य आधारित स्वतंत्र रूप से शराब के उत्पादन एवं निर्यात करने से सम्बंधित अनुमति देने चाहिए।

बिहार में तेज हुई अहीर रेजिमेंट की मांग

जिससे राज्य के राजस्व में 6 से 7 हजार करोड़ रुपये का संग्रहण होगा। केंद्र और राज्य के राजस्व में कोरोना महामारी के कारण भारी कमीं आया हैं। इस समय बिहार में जिम्मेदारी पूर्वक व नियंत्रित तरीके से शराब की बिक्री की अनुमति दे दी जाए तो राज्य सरकार के राजस्व में बढ़ोतरी होगीं।

वहीं दूसरे राज्यो के तर्ज पर यह भी कहा गया कि होम डिलीवरी अथवा ऑनलाइन सेल करने का छूट दिया जाए।

अब केवल 10 मिनट में बनेगा आपका पैन कार्ड(PAN CARD), कैसे करें Apply?

यह भी पढ़े :  Bihar Civil Court : नहीं होगी 11 फरवरी से बिहार सिविल कोर्ट की परीक्षा, ऑफिसियल नोटिस जारी, जानें कारण

राज्य को ज्यादा से ज्यादा राजस्व मिल सकें इसीलिए शराब को बेचने के लिए निर्धारित मूल फिक्स कर बिक्री के लिए अनुमति दिया जाए, तथा राज्य के शराब बनाने वाले कम्पनियों को छूट मिली जिससे राज्य के राजस्व में 6 से 7 हजार करोड़ का संग्रहन होगा

नियर न्यूज अब टेलीग्राम और फेसबुक पर भी उपलब्ध हैं, जरूरी जानकारियों के लिए अभी हमारे साथ जुड़े :

फेसबुक पेज के लिए : यहां क्लिक करें

फेसबुक ग्रुप के लिए : यहां क्लिक करें

Related Articles

Stay Connected

52,251FansLike
3,026FollowersFollow
2,201SubscribersSubscribe

Business

NAUKRI

ASTROLOGY

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.