Thursday, February 9, 2023

स्नातक पार्ट- वन की परीक्षा में हो सकती हैं देरी, यहां पढ़ें पूरी वजह

मुजफ्फरपुर: Bihar University में पिछले वर्ष स्नातक (सत्र 2019-22) में एडमिशन लेने वाले छात्रों का 25 कॉलेजों की लापरवाही से 50 हजार छात्रों का “Registration” अटक गया है।

विश्वविद्यालय के UMIS कोऑर्डिनेटर डॉ. ललन कुमार झा ने बताया की बीते 23 अक्टूबर को ही “Registration” का फॉर्मेट कॉलेजों को भेजा गया था।

बार-बार रिमाइंडर भेजने के बाद भी अभी तक “Registration Form” विश्वविद्यालय में जमा नहीं किया है।

“Registration Form” विश्वविद्यालय में नहीं आने से छात्रों को परीक्षा फॉर्म में भरने में दिक्कत आ सकती है।

UMIS कोऑर्डिनेटर ने बताया की कॉलेजों को जल्द से जल्द “Registration Form” विश्वविद्यालय में भेजने को कहा गया है।

ताकि परीक्षा फॉर्म भरवाने की प्रक्रिया शुरू हो सकें।

यहां देखें क्या भरना हैं रजिस्ट्रेशन फॉर्म में:

  1. छात्र का पूरा नाम।
  2. पिता का नाम।
  3. माता का नाम।
  4. छात्र ने किस बोर्ड से 12वीं पास किया है, उसका नाम।
  5. ऑनर्स विषय का नाम।
  6. सब्सिडियरी विषय का नाम।
  7. कॉलेज रौल नंबर।
  8. रजिस्ट्रेशन नंबर।
यह भी पढ़े :  BRABU TDC Part 3 Result : मैट्रिक परीक्षा के बाद शुरू होगी स्नातक पार्ट- 3 की कॉपियों की जांच, जाने परीक्षा विभाग ने क्या कुछ कहा…

इन सभी चीजों को “Excel Sheet” में भरकर कॉलेजों को विश्वविद्यालय में जमा करना है।

इन कॉलेजों ने नहीं भेजा रजिस्ट्रेशन फॉर्म:

जेएस कॉलेज चंदौली,

केसीटीसी कॉलेज रक्सौल,

एमडीडीएम कॉलेज,

एमजेके कॉलेज,

एमएस कॉलेज,

एमएसकेबी कॉलेज,

आरसी कॉलेज सकरा,

आरडीएस कॉलेज,

आरएलएसवाई कालेज,

आरपीएस कालेज,

आरएस कॉलेज मुजफ्फरपुर,

एसआरएपी कॉलेज चकिया,

एसआरकेजी कॉलेज चकिया,

समता कालेज जनदाहां,

गवमेंट डिग्री कालेज बगहा,

अक्षयवट डिग्री कॉलेज,

अवध बिहारी सिंह कॉलेज,

डॉ जगन्नाथ मिश्रा कॉलेज,

जवाहर लाल नेहरू मेमोरियल कॉलेज,

महेश्वर नाथ महामाया महिला कॉलेज,

पं उमाशंकर तिवारी कॉलेज,

पं यमुना कारजी कॉलेज आदि हैं,

Related Articles

Stay Connected

52,251FansLike
3,026FollowersFollow
2,201SubscribersSubscribe

Business

NAUKRI

ASTROLOGY

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.