Friday, November 27, 2020

लॉकडाउन के दौरान इस समयावधि में ही कर सकेंगे खरीदारी

देश मे कोरोना वायरस के चलते जिंदगी ठहर सी गई है जिसमें जितने वाला व्यक्ती किसी रेस मे नही बल्कि घर मे रहने वाला होगा.

राजधानी पटना में 10 जुलाई से 16 जुलाई तक लॉकडाउन लगाने के लिए पटना के डीएम कुमार रवि ने आदेश जारी कर दिया है,

यह लॉकडाउन 10 जुलाई शुक्रवार से लागू हो जाएगा गुरूवार की रात्रि 12 बजे तक ऑनलॉक रहेगा लेकिन शुक्रवार सुबह से ही लॉकडाउन लग जायेगा.

डीएम कुमार रवि ने बताया कि सभी सरकारी और प्राइवेट संस्थान बंद रहेंगे लेकिन आवश्यक सेवा से जुड़े संस्थान खुले रहेंगे.

उन्होंने यह भी बताया की फल, सब्जी, दूध, किराना दुकान और मांस मछली की दुकाने तय समय से खुलेगी और बंद होगी. ये सभी दुकाने सुबह 6 बजे से 10 बजे तक और शाम मे चार बजे से सात बजे तक खुला रहेगा,

तय समय के अंदर सभी लोग जरूरी सामानों की खरीदारी कर सकते हैं. डीएम ने कहा की सभी अपने निकटवर्ती दुकान से ही समान लेने की कोशिश करे ताकि उन्हें बाहर जाने की जरूरत नहीं पड़े.

डीएम कुमार रवि ने बताया की कोरोंना वायरस बहुत तेजी से फैल रहा है इसको देखते हुए शहर मे एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन लगया जा रहा है

आपसे अनुरोध है कि आप सब घर से बाहर नहीं निकले जरूरी कार्य पड़ने पर ही घर से बाहर निकले नहीं तो पुलिस प्रशासन को मजबूरी मे कानूनी करवाई करनी पड़ेगी, जो प्रशासन की बातों को लापरवाही करेंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

ये जरूरी संस्थान खुले रहेंगे

डीएम ने बताया है कि शहर मे सभी जरूरी संस्थान को खुला रखा गया है जैसे – सभी प्रकार की खाद्य सामग्री वाला किराना दुकान, सब्जी दुकान, दूध, मांस-मछली, बैंक,

अस्पताल, एम्बुलेंस, पुलिस, पुलिस डिफेंस, अग्निशमन सेवा, नर्सिंग होम, दावा दुकान, बीमा, टेलीफोन, इन्टरनेट सेवा, प्रिन्ट, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के कार्यालय और काम करने वाले कर्मी, पटना उच्च न्यायालय के नए नियम अनुसार छुट दी जाएगी लेकिन अगर वायरस ज़्यादा बढ़ता है तो लॉकडाउन आगे भी जारी रहेगा.

ये सभी दुकाने बंद रहेगी

सभी सरकारी और प्राइवेट संस्थान महत्वपूर्ण कार्य को छोड़कर बंद रहेगी, सोना, चांदी, बर्तन, कपडा दुकान, प्लास्टिक दुकान, फर्निचर, श्रृंगार दुकान साथ ही वे सभी दुकाने जो अनिवार्य सेवा के अंतर्गत नहीं आता हो वे सारी दुकाने बंद रहेगी.

मॉल मे केवल अनिवार्य समान बिकेगा

मॉल मे वैसे सामानों की बिक्री होगी जो रोज के लिए अनिवार्य हो साथ ही होटल मे सिर्फ़ खाना की होम डिलिवरी की छुट दी गई है.

कहीं आने जाने के लिय देना होगा प्रमाण

अगर आप अपने शहर से दूसरे जगह जाना चाहते है तो उसके लिए आपको प्रमाण दिखाना होगा कि आप किस काम से बाहर जा रहे है,

अगर आप कहीं का यात्रा करने के लिए जा रहे है तो उसका टिकट दिखाना होगा लेकिन वाहन को ले जाने के लिए पास की जरूरत नहीं है और अगर आप किसी के श्राद्ध या कोई अन्य कार्य के लिए जा रहे है तो आप अपना गाड़ी लेकर आ जा सकते हैं.

जरूरत की सामानों को खरीदने के लिए मिला एक दिन का समय

डीएम कुमार रवि ने लॉकडाउन लगाने से पहले एक दिन का समय दिया है, एक दिन मे वे सभी चीजे आप खरीद सकते है

जिस समान की आपको जरूरत है, इस एक दिन मे सभी लोग अपने लिए खाद्य सामाग्री खरीद कर घर मे रख सकते है वरना अचानक लगे लॉकडाउन मे सामानों की खरीदारी मे काफी भीड़ बढ़ जाती है

जिसे नियंत्रण करना बहुत मुश्किल हो जाता है इसलिए लॉकडाउन से पहले एक दिन का समय दिया गया है.

कालाबाजारी रोकने को प्रशासन तैयार

डीएम ने बताया कि कालाबाजारी रोकने के लिए शहर मे प्रशासन का 8 टीम गठित किया गया है,

ये टीम समय-समय पर किराना दुकानों मे छापामारी करेगी ताकि कोई खाद्य सामाग्री अधिक दामों मे नही बेचे,

किराना दुकानों के साथ ही जन वितरण प्रणाली दुकानों पर भी छापामारी होगी जिससे लॉकडाउन मे सरकार के तरफ से गरीबो को मिलने वाला अनाज सही समय पर मिल सके.

Driving Licence : ऑनलाइन ड्राइविंग लाइसेंस अब सिर्फ 900 रुपये में, यहाँ करें आवेदन

निर्माण कार्य चालू रहेगा

लॉकडाउन मे भारी वाहनों की परिचालन नहीं रहेगा लेकिन खाद्य सामग्री लाने वाले वाहन का रोक नहीं है,

रोजगार देने वाले सभी कार्यालय खुले रहेंगे जिससे प्रवासी मजदूरों को काम मिल सके इसके लिए सरकारी और प्राइवेट निर्माण कार्य चालू रहेंगे लोगों के पास जो भी घर बनवाने का समान है उसका इस्तेमाल निर्माण कार्य के लिए कर सकते हैं.

डीएम कुमार रवि ने बताया कि जिनके पास घर बनवाने का समान है वे अपना निर्माण कार्य जारी रखेंगे लेकिन लॉकडाउन मे वे कोई भी समान नहीं खरीद सकते है.

आपको बता दे की कोरोंना वायरस भारत मे तेजी से अपना पाव पसार रहा है इसको देखते हुए पटना डीएम कुमार रवि ने ये कदम उठाया है.

अब Whatsapp पर पाए महत्वपूर्ण खबरों की जानकारी, निचे दिए लिंक पर क्लिक कर किसी एक group को हीं join करें : धन्यवाद

Whatsap group 10 : JOIN NOW

Whatsap group 11 : JOIN NOW

Team || Gopal Kumar

12925a9378c0ce72ce930f3778bec96c?s=96&d=blank&r=g
Near Newshttp://nearnews.in
Near News is a Digital Media Website which brings the latest updates from across Bihar University, Muzaffarpur, Bihar and India as a whole.

Related Articles

आपके PAN Card पर लिखे नंबर में छिपी हैं कई रोचक जानकारियां, जानिए इनके बारे में सबकुछ

BUSINESS DESK : PAN Card मौजूदा समय में वित्तीय लेनदेन के लिए एक प्रमुख साधन है. PAN Card का...

पति ने शराब छोड़ी तो पत्नी ने तलाक ले लिया, बोली पति तो शराबी ही चाहिए

अजब -गजब : शराब (alcohol) पीने को गलत आदत माना जाता है. अक्सर पत्नियां (Wife) अपने पति (Husband) के...

Stay Connected

29,939FansLike
500FollowersFollow
1,000SubscribersSubscribe

Latest Articles

आपके PAN Card पर लिखे नंबर में छिपी हैं कई रोचक जानकारियां, जानिए इनके बारे में सबकुछ

BUSINESS DESK : PAN Card मौजूदा समय में वित्तीय लेनदेन के लिए एक प्रमुख साधन है. PAN Card का...

पति ने शराब छोड़ी तो पत्नी ने तलाक ले लिया, बोली पति तो शराबी ही चाहिए

अजब -गजब : शराब (alcohol) पीने को गलत आदत माना जाता है. अक्सर पत्नियां (Wife) अपने पति (Husband) के...

LPG Gas Cylinder पर Insurance अलग से खरीदना पड़ता है? यहां जानें शर्तें

INSURANCE : LPG Gas Cylinder से होने वाली दुर्घटनाओं पर 50 लाख रुपए का मुफ्त बीमा (Free Insurance) कवर...

Bank एकाउंट और PAN को Aadhaar से लिंक करने पर यूजर्स को होता है खतरा? जानें क्या कहता है UIDAI

Bank Account Aadhaar Linking : Unique Identification Authority of India (UIDAI) द्वारा जारी होने वाला Aadhar Card एक बेहद...

बीएड परीक्षा के पैटर्न में गलती से परिणाम पर नहीं पड़ेगा असर : परीक्षा नियंत्रक

मुजफ्फरपुर: Bihar University की ओर से आयोजित "B.Ed. 1st Year" व "B.Ed. 2nd Year" की परीक्षा के पैटर्न में हुई गलती से...

मैट्रिक में फेल छात्र छह साल तक दे सकेंगे परीक्षा

क्या आप Bihar Board मैट्रिक की परीक्षा देना चाहते है, फिर से पढ़ाई करने की इच्छा हो रही हैं तो आपके लिए...

B.Ed परीक्षा में पास छात्रों को अपने जिले के कॉलेजों में ही एडमिशन लेने का मिलेगा मौका, यहां पढ़ें पूरी खबर

B.Ed प्रवेश परीक्षा में पास करने वाले छात्रों को एडमिशन के लिए अपने जिले का कॉलेज मिल सकता है।
- Advertisement -
error: Copyright © 2020 All Rights Reserved.