Friday, March 1, 2024
HomeBiharजानें स्नातक पार्ट वन के रिजल्ट में देरी होने की वजह

जानें स्नातक पार्ट वन के रिजल्ट में देरी होने की वजह

Bihar University में सत्र 2018-21 के स्नातक पार्ट वन का रिजल्ट आठ कॉलेजों से प्रैक्टिकल मार्क्स नहीं आने के कारण रूका हुआ है।

परीक्षा नियंत्रक डॉ. मनोज कुमार ने बताया कि इन कॉलेजों में कोरेंटिन सेंटर बनाये गये थे, इसलिए इन कॉलेजों नें छात्रों के प्रैक्टिकल मार्क्स विवि में नहीं भेजे सकें है। जिनके कारण से रिजल्ट जारी करने में इतनी देरी हो रही हैं।

उन्होनें बताया की प्रैक्टिकल मार्क्स विवि में आते ही रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा।

वहीं छात्रों का कहना है कि सत्र 2018-21 के स्नातक पार्ट वन का रिजल्ट 2019 में ही आ जाना चाहिए था, लेकिन वर्ष 2020 के छह माह बीत गयें अभी तक रिजल्ट का पता नहीं है।

अगर रिजल्ट आ भी जाता हैं, तो ओरिजनल डिग्री मिलते-मिलते October-November आ जायेगा। इसके बाद ही स्नातक पार्ट टू का परीक्षा फॉर्म भरेंगे और परीक्षा दें सकेंगे।

डॉ. मनोज कुमार ने बताया कि सत्र 2018-21 के स्नातक पार्ट वन का नामांकन वर्ष 2018 के November महीनें तक हुआ था, इस कारण से रिजल्ट में देरी हुई हैं।

RELATED ARTICLES
S.K. JAIN
S.K. JAINhttps://nearnews.in/
एस.के. जैन Near News में सीनियर एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के नौकरी, एडुकेशन विषयों जैसे लेटेस्ट सरकारी नौकरी, यूनिवर्सिटी न्यूज व अन्य कैरियर से सम्बंधित न्यूज लिखते हैं। ये लेटेस्ट नौकरी व कैरियर से परिचित रहना पसंद करते हैं। इन्हें [email protected] पर संपर्क किया जा सकता है।
Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.