बुधवार, जून 19, 2024
होमBiharBihar Electricity Department : बिहार के 16 लाख प्रीपेड...

Bihar Electricity Department : बिहार के 16 लाख प्रीपेड स्मार्ट मीटर ग्राहकों के लिए बड़ी खबर

बिहार के बिजली ग्राहकों को लगभग दो सप्ताह बाद राहत की खबर मिली है.आपको बता दे 2 मई से 15 मई तक तकनीकी खराबी के कारण बिजली मीटर (Power Meter) ऊर्जा खपत के आधार पर राशि नहीं कट रही थी.

Bihar Electricity Department : अगर आप बिहार के रहने वाले एक बिजली उपभोक्ता हैं तो आज का हमारा यह लेख आपके लिए है. बिहार के 16 लाख बिजली उपभोक्ताओं के लिए एक बड़ी खबर है. बिहार में एक बार फिर से बिजली रिचार्ज पोर्टल (Electricity Recharge Portal) काम करने लगा है.

- Advertisement -

दरअसल, बीते कुछ दिनों से परेशानी झेल रहे बिहार के बिजली ग्राहकों (Electricity customers of Bihar) को लगभग दो सप्ताह बाद राहत की खबर मिली है.आपको बता दे 2 मई से 15 मई तक तकनीकी खराबी के कारण बिजली मीटर (Power Meter) ऊर्जा खपत के आधार पर राशि नहीं कट रही थी. लेकिन इस तकनीकी समस्या को शुक्रवार को ठीक कर लिया गया है.

तकनीकी खराबी दूर होने के बाद कुछ उपभोक्ताओं का बैलेंस नेगेटिव आ गया है. कंपनी ने कहा है कि, शुक्रवार शाम तक सभी उपभोक्ताओं के बैलेंस को ऊर्जा खपत के आधार पर एडजस्ट कर दिया जाएगा. बिजली कंपनी (Bihar Electricity Department) ने गड़बड़ी से होने वाली समस्याओं से उपभोक्ताओं को भारी राहत दी है.

यह भी पढ़ें: बिहार में जून से बदलेंगे जमीन-मकान की रजिस्ट्री के नियम

सोमवार तक नहीं कटेगी बिजली

आपको बता दें कि, सोमवार को सुबह 11:00 बजे से नेगेटिव बैलेंस (Negative Balance) वाले उपभोक्ताओं की बिजली आपूर्ति काटने का फैसला लिया गया है. बिजली कंपनी (Electricity customers of Bihar) ने नेगेटिव बैलेंस वाले उपभोक्ताओं से कहा है कि, अपने बिजली कनेक्शन (Electricity Connection) को चालू रखने के लिए अपने प्रीपेड मीटर को रिचार्ज कर लें, नहीं तो उनकी बिजली काट दी जाएगी.

आपको बता दें कि, बिहार में अभी 16 लाख प्रीपेड मीटर बिजली उपभोक्ता (Prepaid Meter Electricity Consumer) हैं. बिहार में तकनीकी समस्या के कारण उपभोक्ताओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा था. अब ग्राहकों को बिजली कंपनी ने मैसेज कर भुगतान करने को कहा है.

बिहार के राजधानी पटना में 5 लाख से अधिक स्मार्ट मीटर उपभोक्ता हैं और पूरे बिहार में करीब 16 लाख (Smart Meter Consumers) हैं. आखिरकार, बिजली विभाग (Bihar Electricity Department) की ओर से स्मार्ट प्रीपेड मीटर के ग्राहकों को राहत दी गई है.

यह भी पढ़ें: क्या केके पाठक को नहीं मिलेगी सैलरी? पटना हाई कोर्ट का बड़ा आदेश

Bihar Electricity Department : F&Q

स्मार्ट बिजली मीटर क्या है?

स्मार्ट मीटर आपके घर पर लगे पारंपरिक मीटर के समान ही होता है, जिसमें यह ऊर्जा खपत डेटा को मापता है और रिकॉर्ड करता है. हालाँकि, स्मार्ट मीटर अलग है क्योंकि यह एक डिजिटल उपकरण है जो आपकी उपयोगिता के साथ दूर से संचार कर सकता है.

बिहार में प्रीपेड मीटर लगाना अनिवार्य है?

बिहार राज्य पावर होल्डिंग कंपनी लिमिटेड के तहत प्रदेश में स्मार्ट मीटर को लगाया गया है. बिहार सरकार का दावा किया है कि, पूरे प्रदेश में बिजली पहुंच गई है. अब उपभोक्ताओं को स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाना भी आवश्यक है.

नियर न्यूज टिम रोज़ाना अपने विवर के लिए सरकारी योजना और लेटेस्ट गवर्नमेंट जॉब सहित अन्य महत्वपूर्ण खबर पब्लिश करती है, इसकी जानकारी व्हाट्सअप और टेलीग्राम के माध्यम से प्राप्त कर सकतें हैं। हमारा यह आर्टिकल आपको उपयोगी लगा हों तो अपने दोस्तों को शेयर कर हमारा हौसलाफ़जाई ज़रूर करें।

संबंधित खबरें

Tanisha Mishra
Tanisha Mishra
तनिशा मिश्रा Near News में एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के न्यूज जैसे लेटेस्ट खबर, टेलीकॉम, वेब सीरीज, करियर से सम्बंधित खबर लिखते हैं। ये लेटेस्ट खबर से परिचित रहना पसंद करते हैं। इन्हें [email protected] पर संपर्क किया जा सकता है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

- Advertisment -
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
होमBiharBihar Electricity Department : बिहार के 16 लाख प्रीपेड स्मार्ट मीटर ग्राहकों...

Bihar Electricity Department : बिहार के 16 लाख प्रीपेड स्मार्ट मीटर ग्राहकों के लिए बड़ी खबर

बिहार के बिजली ग्राहकों को लगभग दो सप्ताह बाद राहत की खबर मिली है.आपको बता दे 2 मई से 15 मई तक तकनीकी खराबी के कारण बिजली मीटर (Power Meter) ऊर्जा खपत के आधार पर राशि नहीं कट रही थी.

Bihar Electricity Department : अगर आप बिहार के रहने वाले एक बिजली उपभोक्ता हैं तो आज का हमारा यह लेख आपके लिए है. बिहार के 16 लाख बिजली उपभोक्ताओं के लिए एक बड़ी खबर है. बिहार में एक बार फिर से बिजली रिचार्ज पोर्टल (Electricity Recharge Portal) काम करने लगा है.

दरअसल, बीते कुछ दिनों से परेशानी झेल रहे बिहार के बिजली ग्राहकों (Electricity customers of Bihar) को लगभग दो सप्ताह बाद राहत की खबर मिली है.आपको बता दे 2 मई से 15 मई तक तकनीकी खराबी के कारण बिजली मीटर (Power Meter) ऊर्जा खपत के आधार पर राशि नहीं कट रही थी. लेकिन इस तकनीकी समस्या को शुक्रवार को ठीक कर लिया गया है.

तकनीकी खराबी दूर होने के बाद कुछ उपभोक्ताओं का बैलेंस नेगेटिव आ गया है. कंपनी ने कहा है कि, शुक्रवार शाम तक सभी उपभोक्ताओं के बैलेंस को ऊर्जा खपत के आधार पर एडजस्ट कर दिया जाएगा. बिजली कंपनी (Bihar Electricity Department) ने गड़बड़ी से होने वाली समस्याओं से उपभोक्ताओं को भारी राहत दी है.

यह भी पढ़ें: बिहार में जून से बदलेंगे जमीन-मकान की रजिस्ट्री के नियम

सोमवार तक नहीं कटेगी बिजली

आपको बता दें कि, सोमवार को सुबह 11:00 बजे से नेगेटिव बैलेंस (Negative Balance) वाले उपभोक्ताओं की बिजली आपूर्ति काटने का फैसला लिया गया है. बिजली कंपनी (Electricity customers of Bihar) ने नेगेटिव बैलेंस वाले उपभोक्ताओं से कहा है कि, अपने बिजली कनेक्शन (Electricity Connection) को चालू रखने के लिए अपने प्रीपेड मीटर को रिचार्ज कर लें, नहीं तो उनकी बिजली काट दी जाएगी.

आपको बता दें कि, बिहार में अभी 16 लाख प्रीपेड मीटर बिजली उपभोक्ता (Prepaid Meter Electricity Consumer) हैं. बिहार में तकनीकी समस्या के कारण उपभोक्ताओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा था. अब ग्राहकों को बिजली कंपनी ने मैसेज कर भुगतान करने को कहा है.

बिहार के राजधानी पटना में 5 लाख से अधिक स्मार्ट मीटर उपभोक्ता हैं और पूरे बिहार में करीब 16 लाख (Smart Meter Consumers) हैं. आखिरकार, बिजली विभाग (Bihar Electricity Department) की ओर से स्मार्ट प्रीपेड मीटर के ग्राहकों को राहत दी गई है.

यह भी पढ़ें: क्या केके पाठक को नहीं मिलेगी सैलरी? पटना हाई कोर्ट का बड़ा आदेश

Bihar Electricity Department : F&Q

स्मार्ट बिजली मीटर क्या है?

स्मार्ट मीटर आपके घर पर लगे पारंपरिक मीटर के समान ही होता है, जिसमें यह ऊर्जा खपत डेटा को मापता है और रिकॉर्ड करता है. हालाँकि, स्मार्ट मीटर अलग है क्योंकि यह एक डिजिटल उपकरण है जो आपकी उपयोगिता के साथ दूर से संचार कर सकता है.

बिहार में प्रीपेड मीटर लगाना अनिवार्य है?

बिहार राज्य पावर होल्डिंग कंपनी लिमिटेड के तहत प्रदेश में स्मार्ट मीटर को लगाया गया है. बिहार सरकार का दावा किया है कि, पूरे प्रदेश में बिजली पहुंच गई है. अब उपभोक्ताओं को स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाना भी आवश्यक है.

नियर न्यूज टिम रोज़ाना अपने विवर के लिए सरकारी योजना और लेटेस्ट गवर्नमेंट जॉब सहित अन्य महत्वपूर्ण खबर पब्लिश करती है, इसकी जानकारी व्हाट्सअप और टेलीग्राम के माध्यम से प्राप्त कर सकतें हैं। हमारा यह आर्टिकल आपको उपयोगी लगा हों तो अपने दोस्तों को शेयर कर हमारा हौसलाफ़जाई ज़रूर करें।

RELATED ARTICLES
Tanisha Mishra
Tanisha Mishra
तनिशा मिश्रा Near News में एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के न्यूज जैसे लेटेस्ट खबर, टेलीकॉम, वेब सीरीज, करियर से सम्बंधित खबर लिखते हैं। ये लेटेस्ट खबर से परिचित रहना पसंद करते हैं। इन्हें [email protected] पर संपर्क किया जा सकता है।
Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

- Advertisment -