Wednesday, April 17, 2024
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
HomeNewsरमजान से पहले इजरायल के इस फैसले पर भड़क सकते हैं मुसलमान!...

रमजान से पहले इजरायल के इस फैसले पर भड़क सकते हैं मुसलमान! जानिए क्या प्लान

रमजान की मार्च से शुरुआत हो रही है. उससे पहले ही इजरायल का एक फैसला दुनियाभर के मुसलमानों को चुभने वाला हो सकता है. येरूशलम में स्थित अल अक्सा मस्जिद में एंट्री पर पाबंदियों को लेकर विचार विमर्श किया जा रहा है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Israel News: हम सभी जानते है कि, इस्लाम मान्यताओं के मुताबिक मार्च यानी पवित्र माह रमजान शुरू होने वाला है. ऐसे में इजरायल सरकार येरूशलम में स्थित अल अक्सा मस्जिद में एंट्री पर रोक लगा सकती है.इसलिए आज हम आप सभी के लिए Israel News लेकर आये है.

हम आप सभी को बता दें कि, अल-अक्सा मस्जिद मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए महत्वपूर्ण स्थान है. क्योंकि मक्का और मदीना के बाद मुस्लिम समुदाय इसे ही अपना तीसरा सबसे पवित्र स्थल मानते हैं. यहां तक कि मुस्लिम ही नहीं बल्कि यहूदी और क्रिश्चियन

सरकारी नौकरी Whatsapp ग्रुप में जुड़े
यहां क्लिक करें

लोगों में इस स्थल का प्रमुख स्थल मानते है. ऐसा मान्यता है कि, यहां पैगंबर मोहम्मद ने अपना आखिरी समय व्यतीत किया था और यहीं से जन्नत गए थे। वहीं यहूदी इसके एक हिस्से को डोम ऑफ रॉक कहते हैं.

बताते चलें कि, येरूशलम में स्थित अल अक्सा मस्जिद में एंट्री पर पाबंदियों को लेकर इजरायल सरकार विचार विमर्श कर रही है. जिसमें इस मस्जिद और उसके आसपास के जगहों पर इस्लाम, यहूदी और ईसाई मत के अनुयायियों के भिन्य-भिन्य दावे खेलें जा रहे हैं. ऐसे में इजरायल का एक फैसला दुनियाभर के मुसलमानों को चुभने वाला हो सकता है.

यह भी पढ़ें: इस 5 टिप्स से बने सफल, जाने Bill Gate और Jeff Bezos के सफलता का राज

इस संदर्भ में इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू के तरफ से एक फैसला ले लिया गया है. चूँकि, उन्होंने अभी तक यह नही बताया है कि क्या निर्णय लिया गया है. वही, अल अक्सा मस्जिद में एंट्री के पाबंदियों पर कुछ अधिकारियों ने नाम न बताने के शर्त पर कहा कि, आखिरी फैसला मस्जिद की सुरक्षा में लगी एजेंसियों की सिफारिशों के पश्चात ही लिया जाएगा.

हम आप सभी को यह जानकारी दें कि, बीते रविवार को इजरायल कैबिनेट की बैठक हुई थी, जिसमें इस बात पर भी मंथन हुआ कि किस तरह स अल अक्सा मस्जिद में एंट्री से अरबों को जाने पर पाबंदी लगाया जाए. वही, इजरायल सरकार ने पहले से ही मस्जिद के एंट्री को लेकर कई पाबंदियां लगाई हुई हैं.

बता दें कि ये पाबंदियां आमतौर पर रमजान के महीने में काफी हद तक हटा दी जाती हैं, परंतु अब की बार उलटे इसपर इजाफा ही हो सकता है. क्योंकि गाजा में युद्ध की शुरुआत होने के बाद से ही इजरायल ने यहां की पाबंदियां को और भी बढ़ा दिया हैं. बताया जा रहा है कि, 10 मार्च से शुरू होने वाले रमजान (Ramadan) के माह में पाबंदियां कुछ कम कर ली जाएंगी,

लेकिन ऐसा होना मुश्किल है क्योंकि इजरायल सरकार इनमें बढ़ोतरी करने जा रही है. वही, इजरायली सेना के पूर्व अफसर डान हारेल ने बताया कि ऐसा कदम उठाना मूर्खता होगा. उनके मुताबिक, इससे तो पूरे मुस्लिम वर्ल्ड में ही एक उबाल पैदा होगा.

इसपर इजरायल के एक अरब मूल के सांसद वलीद अल्हवाशला ने सोशल मीडिया पर बताया कि अगर पाबंदियां लगाई गईं तो फिर यह आग में घी डालने जैसा निर्णय होगा. क्योंकि मुस्लिम मान्यता के मुताबिक अल अक्सा मस्जिद ही वह जगह है, जहां से पैगंबर मुहम्मद जन्नत गए थे.

वहीं इस मस्जिद में प्रत्येक दिन हजारों मुस्लिम पहुँचते हैं और रमजान के महीने में तो आंकड़ा कहीं हद तक हो जाता है. चूँकि यह परिसर संवेदनशील रहा है और अकसर यहां अरबों एवं यहूदियों के बीच झड़पें होती रही हैं.

यह भी पढ़ें: घर बैठे गेमिंग चैनल से लाखों कमाए, जाने क्राईटेरिया

Join Job And News Update
WhatsAppTelegram
FacebookInstagram
YouTubeFor Google

RELATED ARTICLES
Nika Chauhan
Nika Chauhan
निका चौहान Near News में एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के न्यूज जैसे टेक, इंटरटेनमेंट, व वायरल खबर से सम्बंधित न्यूज लिखते हैं। ये वायरल खबर से परिचित रहना पसंद करते हैं। इन्हें [email protected] पर संपर्क किया जा सकता है।
Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.

Most Popular

- Advertisment -
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
HomeNewsरमजान से पहले इजरायल के इस फैसले पर भड़क सकते हैं मुसलमान!...

रमजान से पहले इजरायल के इस फैसले पर भड़क सकते हैं मुसलमान! जानिए क्या प्लान

रमजान की मार्च से शुरुआत हो रही है. उससे पहले ही इजरायल का एक फैसला दुनियाभर के मुसलमानों को चुभने वाला हो सकता है. येरूशलम में स्थित अल अक्सा मस्जिद में एंट्री पर पाबंदियों को लेकर विचार विमर्श किया जा रहा है.

Israel News: हम सभी जानते है कि, इस्लाम मान्यताओं के मुताबिक मार्च यानी पवित्र माह रमजान शुरू होने वाला है. ऐसे में इजरायल सरकार येरूशलम में स्थित अल अक्सा मस्जिद में एंट्री पर रोक लगा सकती है.इसलिए आज हम आप सभी के लिए Israel News लेकर आये है.

हम आप सभी को बता दें कि, अल-अक्सा मस्जिद मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए महत्वपूर्ण स्थान है. क्योंकि मक्का और मदीना के बाद मुस्लिम समुदाय इसे ही अपना तीसरा सबसे पवित्र स्थल मानते हैं. यहां तक कि मुस्लिम ही नहीं बल्कि यहूदी और क्रिश्चियन

सरकारी नौकरी Whatsapp ग्रुप में जुड़े
यहां क्लिक करें

लोगों में इस स्थल का प्रमुख स्थल मानते है. ऐसा मान्यता है कि, यहां पैगंबर मोहम्मद ने अपना आखिरी समय व्यतीत किया था और यहीं से जन्नत गए थे। वहीं यहूदी इसके एक हिस्से को डोम ऑफ रॉक कहते हैं.

बताते चलें कि, येरूशलम में स्थित अल अक्सा मस्जिद में एंट्री पर पाबंदियों को लेकर इजरायल सरकार विचार विमर्श कर रही है. जिसमें इस मस्जिद और उसके आसपास के जगहों पर इस्लाम, यहूदी और ईसाई मत के अनुयायियों के भिन्य-भिन्य दावे खेलें जा रहे हैं. ऐसे में इजरायल का एक फैसला दुनियाभर के मुसलमानों को चुभने वाला हो सकता है.

यह भी पढ़ें: इस 5 टिप्स से बने सफल, जाने Bill Gate और Jeff Bezos के सफलता का राज

इस संदर्भ में इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू के तरफ से एक फैसला ले लिया गया है. चूँकि, उन्होंने अभी तक यह नही बताया है कि क्या निर्णय लिया गया है. वही, अल अक्सा मस्जिद में एंट्री के पाबंदियों पर कुछ अधिकारियों ने नाम न बताने के शर्त पर कहा कि, आखिरी फैसला मस्जिद की सुरक्षा में लगी एजेंसियों की सिफारिशों के पश्चात ही लिया जाएगा.

हम आप सभी को यह जानकारी दें कि, बीते रविवार को इजरायल कैबिनेट की बैठक हुई थी, जिसमें इस बात पर भी मंथन हुआ कि किस तरह स अल अक्सा मस्जिद में एंट्री से अरबों को जाने पर पाबंदी लगाया जाए. वही, इजरायल सरकार ने पहले से ही मस्जिद के एंट्री को लेकर कई पाबंदियां लगाई हुई हैं.

बता दें कि ये पाबंदियां आमतौर पर रमजान के महीने में काफी हद तक हटा दी जाती हैं, परंतु अब की बार उलटे इसपर इजाफा ही हो सकता है. क्योंकि गाजा में युद्ध की शुरुआत होने के बाद से ही इजरायल ने यहां की पाबंदियां को और भी बढ़ा दिया हैं. बताया जा रहा है कि, 10 मार्च से शुरू होने वाले रमजान (Ramadan) के माह में पाबंदियां कुछ कम कर ली जाएंगी,

लेकिन ऐसा होना मुश्किल है क्योंकि इजरायल सरकार इनमें बढ़ोतरी करने जा रही है. वही, इजरायली सेना के पूर्व अफसर डान हारेल ने बताया कि ऐसा कदम उठाना मूर्खता होगा. उनके मुताबिक, इससे तो पूरे मुस्लिम वर्ल्ड में ही एक उबाल पैदा होगा.

इसपर इजरायल के एक अरब मूल के सांसद वलीद अल्हवाशला ने सोशल मीडिया पर बताया कि अगर पाबंदियां लगाई गईं तो फिर यह आग में घी डालने जैसा निर्णय होगा. क्योंकि मुस्लिम मान्यता के मुताबिक अल अक्सा मस्जिद ही वह जगह है, जहां से पैगंबर मुहम्मद जन्नत गए थे.

वहीं इस मस्जिद में प्रत्येक दिन हजारों मुस्लिम पहुँचते हैं और रमजान के महीने में तो आंकड़ा कहीं हद तक हो जाता है. चूँकि यह परिसर संवेदनशील रहा है और अकसर यहां अरबों एवं यहूदियों के बीच झड़पें होती रही हैं.

यह भी पढ़ें: घर बैठे गेमिंग चैनल से लाखों कमाए, जाने क्राईटेरिया

Join Job And News Update
WhatsAppTelegram
FacebookInstagram
YouTubeFor Google

RELATED ARTICLES
Nika Chauhan
Nika Chauhan
निका चौहान Near News में एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के न्यूज जैसे टेक, इंटरटेनमेंट, व वायरल खबर से सम्बंधित न्यूज लिखते हैं। ये वायरल खबर से परिचित रहना पसंद करते हैं। इन्हें [email protected] पर संपर्क किया जा सकता है।
Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.

Most Popular

- Advertisment -
error: Copyright © 2024 All Rights Reserved.