Friday, July 12, 2024
HomeLatest NewsUttarkashi Tunnel Rescue : चट्टानों का चीर कर 41...

Uttarkashi Tunnel Rescue : चट्टानों का चीर कर 41 मजदूर आये बाहर, रेस्क्यू में लगें 17 दिन, जीने की आस जिंदा!

Silkyara Tunnel Rescue : उत्तरकाशी के सिलक्यारा टनल हादसे (Silkyara Tunnel Accident of Uttarkashi) के 17वें दिन आखिरकार रेस्क्यू में सफलता मिल ही गई (Rescue was successful) और सभी 41 मजदूरों ने जिंदगी की ये जंग जीत ली. रेस्क्यू टीमों को काफी मशक्कत के बाद मंगलवार रात को ये सफलता मिली.

टनल से सुरक्षित बाहर निकाले गए सभी 41 मजदूर

बताते चलें की अब सभी 41 मजदूरों को टनल से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। आपको बता दें कि टनल के पास 41 Ambulance पहले से ही तैनात कर दी गई थीं. मजदूरों को इन्हीं एबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया है. इनमें से जिन मजदूरों की हालत ज्यादा खराब दिखाई देगी, उसे एयरलिफ्ट कर Rishikesh AIIMS लाया जाएगा. टनल के पास मजदूरों के परिजन भी मौजूद थे.

मजदूरों ने रेस्क्यू टीम को कहा शुक्रिया

बताते चलें जैसे ही उन्होंने अपनों को देखा, उनकी आंख से आंसू निकल आए. टनल से बाहर आने के बाद मजदूरों ने रेस्क्यू टीम को शुक्रिया कहा. टनल से सबसे पहले विजय नाम का मजदूर बाहर आया था. जैसे ही विजय बाहर आया, टनल के बाहर तालियां बजने लगीं. सभी के चेहरे पर खुशी झलक रही थी. मजदूरों के परिजनों की आंखों से आंसू निकलने लगे.

यह भी पढ़ें : Skin Care: चेहरे के दाग-धब्बों के कारण बिगाड़ रहीं हैं खूबसूरती? तो इन उपायों से पाएं छुटकारा

मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री ने मजदूरों से की मुलाकात

आपको बताते चलें की मुख्यमंत्री Pushkar Singh Dhami और केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने जब मजदूर विजय से मुलाकात की तो उनके चेहरे पर भी खुशी साफ झलक रही थी. लगा कोई जंग जीत ली हो. अब सभी 41 मजदूर सुरंग से बाहर आ चुके हैं।

दरअसल, उत्तरकाशी में Chardham Yatra मार्ग पर निर्माणाधीन सिल्क्यारा सुरंग का एक हिस्सा 12 नवंबर दिवाली के दिन ढह गया था, जिससे मलबे के दूसरी ओर 41 मजदूर फंस गए थे. इन्हीं मजदूरों को निकालने के लिए युद्ध स्तर पर बचाव अभियान चलाया जा रहा था.

मुख्यमंत्री Pushkar Singh Dhami खुद समय-समय पर उत्तरकाशी पहुंचकर रेस्क्यू ऑपरेशन का जायजा ले रहे थे. साथ ही Walkie-talkie पर बात कर मजदूरों को ढांढस बंधा रहे थे कि जल्द ही उन्हें टनल से बाहर निकाल लिया जाएगा. वहीं PM मोदी भी इस ऑपरेशन पर नजर बनाए हुए थे. वह रेक्स्यू ऑपरेशन को लेकर सीएम धामी से अपडेट लेते रहते थे.

यह भी पढ़ें : Study Abroad Free: विदेशी यूनिवर्सिटी से बिलकुल फ्री पढ़ाई करने के लिए अपनायें ये 4 ट्रिक्स, करियर समझों सेट

उत्तरकाशी के सिल्क्यारा में पिछले 17 दिनों से यह Rescue Operation चल रहा था. समय बीतने के साथ-साथ लोगों के अंदर एक डर भी था कि इतने दिन बीत जाने के बाद भी मजदूर अभी तक बाहर नहीं आ पाए हैं। बता दें देशवासी मजदूरों के सही सलामत बाहर निकलने की दुआ-प्रार्थना कर रहे थे.

फिलहाल अब मजदूर सुरंग से बाहर आ रहे हैं तो सभी ने राहत की सांस ली है। बताते चलें सुरंग से निकाले जाने के बाद मजदूरों की मेडिकल जांच और देखभाल के लिए चिन्यालीसौड़ के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (Community Health Center) में 41 बेड वाला एक अस्पताल तैयार किया गया है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नियर न्यूज टिम रोज़ाना अपने विवर के लिए सरकारी योजना और लेटेस्ट गवर्नमेंट जॉब सहित अन्य महत्वपूर्ण खबर पब्लिश करती है, इसकी जानकारी व्हाट्सअप और टेलीग्राम के माध्यम से प्राप्त कर सकतें हैं। हमारा यह आर्टिकल आपको उपयोगी लगा हों तो अपने दोस्तों को शेयर कर हमारा हौसलाफ़जाई ज़रूर करें।

संबंधित खबरें

S.K. JAIN
S.K. JAINhttps://nearnews.in/
एस. के. जैन ने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 2017 में नियर न्यूज़ वेब पोर्टल समूह के नियरन्यूज.इन से किये। यहां उन्होंने एंटरटेनमेंट, हेल्थ, बिजनेस, यूनिवर्सिटी न्यूज़ व नौकरी पर काम किया। साथ ही पत्रकारिता के मूलभूत और जरूरी विषयों पर अपनी पकड़ बनाया। वर्तमान समय में शिक्षा, नौकरी, एडुकेशन जैसे लेटेस्ट सरकारी नौकरी, यूनिवर्सिटी न्यूज व अन्य कैरियर से संबंधित खबरें लिखते हैं। उन्हें सीखने और घूमने का शौक है। एस.के. जैन Near News में सीनियर एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के नौकरी, एडुकेशन विषयों जैसे लेटेस्ट सरकारी नौकरी, यूनिवर्सिटी न्यूज व अन्य कैरियर से सम्बंधित न्यूज लिखते हैं। ये लेटेस्ट नौकरी व कैरियर से परिचित रहना पसंद करते हैं। इन्हें [email protected] पर संपर्क किया जा सकता है।

Most Popular

- Advertisment -
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
HomeLatest NewsUttarkashi Tunnel Rescue : चट्टानों का चीर कर 41 मजदूर आये बाहर,...

Uttarkashi Tunnel Rescue : चट्टानों का चीर कर 41 मजदूर आये बाहर, रेस्क्यू में लगें 17 दिन, जीने की आस जिंदा!

Silkyara Tunnel Rescue : उत्तरकाशी के सिलक्यारा टनल हादसे (Silkyara Tunnel Accident of Uttarkashi) के 17वें दिन आखिरकार रेस्क्यू में सफलता मिल ही गई (Rescue was successful) और सभी 41 मजदूरों ने जिंदगी की ये जंग जीत ली. रेस्क्यू टीमों को काफी मशक्कत के बाद मंगलवार रात को ये सफलता मिली.

टनल से सुरक्षित बाहर निकाले गए सभी 41 मजदूर

बताते चलें की अब सभी 41 मजदूरों को टनल से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। आपको बता दें कि टनल के पास 41 Ambulance पहले से ही तैनात कर दी गई थीं. मजदूरों को इन्हीं एबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया है. इनमें से जिन मजदूरों की हालत ज्यादा खराब दिखाई देगी, उसे एयरलिफ्ट कर Rishikesh AIIMS लाया जाएगा. टनल के पास मजदूरों के परिजन भी मौजूद थे.

मजदूरों ने रेस्क्यू टीम को कहा शुक्रिया

बताते चलें जैसे ही उन्होंने अपनों को देखा, उनकी आंख से आंसू निकल आए. टनल से बाहर आने के बाद मजदूरों ने रेस्क्यू टीम को शुक्रिया कहा. टनल से सबसे पहले विजय नाम का मजदूर बाहर आया था. जैसे ही विजय बाहर आया, टनल के बाहर तालियां बजने लगीं. सभी के चेहरे पर खुशी झलक रही थी. मजदूरों के परिजनों की आंखों से आंसू निकलने लगे.

यह भी पढ़ें : Skin Care: चेहरे के दाग-धब्बों के कारण बिगाड़ रहीं हैं खूबसूरती? तो इन उपायों से पाएं छुटकारा

मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री ने मजदूरों से की मुलाकात

आपको बताते चलें की मुख्यमंत्री Pushkar Singh Dhami और केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने जब मजदूर विजय से मुलाकात की तो उनके चेहरे पर भी खुशी साफ झलक रही थी. लगा कोई जंग जीत ली हो. अब सभी 41 मजदूर सुरंग से बाहर आ चुके हैं।

दरअसल, उत्तरकाशी में Chardham Yatra मार्ग पर निर्माणाधीन सिल्क्यारा सुरंग का एक हिस्सा 12 नवंबर दिवाली के दिन ढह गया था, जिससे मलबे के दूसरी ओर 41 मजदूर फंस गए थे. इन्हीं मजदूरों को निकालने के लिए युद्ध स्तर पर बचाव अभियान चलाया जा रहा था.

मुख्यमंत्री Pushkar Singh Dhami खुद समय-समय पर उत्तरकाशी पहुंचकर रेस्क्यू ऑपरेशन का जायजा ले रहे थे. साथ ही Walkie-talkie पर बात कर मजदूरों को ढांढस बंधा रहे थे कि जल्द ही उन्हें टनल से बाहर निकाल लिया जाएगा. वहीं PM मोदी भी इस ऑपरेशन पर नजर बनाए हुए थे. वह रेक्स्यू ऑपरेशन को लेकर सीएम धामी से अपडेट लेते रहते थे.

यह भी पढ़ें : Study Abroad Free: विदेशी यूनिवर्सिटी से बिलकुल फ्री पढ़ाई करने के लिए अपनायें ये 4 ट्रिक्स, करियर समझों सेट

उत्तरकाशी के सिल्क्यारा में पिछले 17 दिनों से यह Rescue Operation चल रहा था. समय बीतने के साथ-साथ लोगों के अंदर एक डर भी था कि इतने दिन बीत जाने के बाद भी मजदूर अभी तक बाहर नहीं आ पाए हैं। बता दें देशवासी मजदूरों के सही सलामत बाहर निकलने की दुआ-प्रार्थना कर रहे थे.

फिलहाल अब मजदूर सुरंग से बाहर आ रहे हैं तो सभी ने राहत की सांस ली है। बताते चलें सुरंग से निकाले जाने के बाद मजदूरों की मेडिकल जांच और देखभाल के लिए चिन्यालीसौड़ के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (Community Health Center) में 41 बेड वाला एक अस्पताल तैयार किया गया है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नियर न्यूज टिम रोज़ाना अपने विवर के लिए सरकारी योजना और लेटेस्ट गवर्नमेंट जॉब सहित अन्य महत्वपूर्ण खबर पब्लिश करती है, इसकी जानकारी व्हाट्सअप और टेलीग्राम के माध्यम से प्राप्त कर सकतें हैं। हमारा यह आर्टिकल आपको उपयोगी लगा हों तो अपने दोस्तों को शेयर कर हमारा हौसलाफ़जाई ज़रूर करें।

RELATED ARTICLES
S.K. JAIN
S.K. JAINhttps://nearnews.in/
एस. के. जैन ने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 2017 में नियर न्यूज़ वेब पोर्टल समूह के नियरन्यूज.इन से किये। यहां उन्होंने एंटरटेनमेंट, हेल्थ, बिजनेस, यूनिवर्सिटी न्यूज़ व नौकरी पर काम किया। साथ ही पत्रकारिता के मूलभूत और जरूरी विषयों पर अपनी पकड़ बनाया। वर्तमान समय में शिक्षा, नौकरी, एडुकेशन जैसे लेटेस्ट सरकारी नौकरी, यूनिवर्सिटी न्यूज व अन्य कैरियर से संबंधित खबरें लिखते हैं। उन्हें सीखने और घूमने का शौक है। एस.के. जैन Near News में सीनियर एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के नौकरी, एडुकेशन विषयों जैसे लेटेस्ट सरकारी नौकरी, यूनिवर्सिटी न्यूज व अन्य कैरियर से सम्बंधित न्यूज लिखते हैं। ये लेटेस्ट नौकरी व कैरियर से परिचित रहना पसंद करते हैं। इन्हें [email protected] पर संपर्क किया जा सकता है।
Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.

Most Popular

- Advertisment -