Sunday, January 29, 2023

UGC: बगैर परीक्षा के नहीं मिल सकती डिग्री, जानिए किन छात्रों को मिल सकते हैं ग्रेस मार्क्स

UGC University Exam Guidelines 2020 : यूजीसी ने यह यूनिवर्सिटीज को साफ कर दिया कि बिना एग्जाम के फाइनल ईयर के छात्रों को डिग्री नहीं दिया जाएगा. हालांकि UGC ने यह छूट दिया है कि वह Exam ऑनलाइन या ऑफलाइन जैसा चाहे करा सकते हैं.

अगर जो छात्र अभी एग्जाम नहीं दे पा रहा हैं तो वैसे छात्रों का एग्जाम बाद में भी कराया जा सकता हैं, लेकिन एग्जाम कराना जरूरी हैं. यूजीसी के पक्ष में फैसला सुनाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने भी एग्जाम को जरूरी माना था.

आयोग ने कहा था कि जो छात्र अभी परीक्षा में भाग लेने में सक्षम नहीं होंगे, तो वैसे छात्रों को परीक्षा के लिए एक और मौका दिए जाएंगे, जब महामारी की स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में होगी. हालांकि, आयोग के इस फैसले पर भी छात्रों ने असहमति जताई थी.

2020-21 शैक्षणिक सत्र के पहले साल के बैच के लिए भी UGC ने दिशा-निर्देश भी जारी किया हैं.

जिसमें बताया गया है कि Under Graduate व P.G. कोर्स के प्रथम साल के बैच का नया शैक्षणिक सत्र नवंबर के पहले सप्ताह से शुरू किये जायेंगे.

यह भी पढ़े :  Sarkari Naukri 2023 : नर्सिंग ऑफिसर के 7400 पदों पर निकली वैकेंसी, 12वीं के साथ है ये सर्टिफिकेट तो करें आवेदन, 92300 रुपये सैलरी

जबकि, कई कॉलेज यूजीसी के ही पहले शेड्यूल के हिसाब से पहले साल के बैच ऑनलाइन शुरू कर चुकी हैं.

बता दें कि इससे पहले UGC के दिशा-निर्देश में कहा गया था कि September 2020 से नए शैक्षणिक सत्र की शुरुआत होगा.

UGC University Exam Guidelines 2020: बगैर परीक्षा के नहीं मिल सकता डिग्री

UGC का यह साफ कहना है कि राज्य परीक्षाओं को स्थगित करने की तो मांग कर सकता हैं, लेकिन बिना परीक्षा के किसी भी हाल में डिग्री नहीं दिया जा सकता.

आयोग प्रोमोटेड छात्रों को भी डिग्री नहीं देगी, इसलिए परीक्षाओं का कराना अनिवार्य है. सुप्रीम कोर्ट ने भी इसे सही ठहराते हुए UGC आयोग के पक्ष में ही अपना फैसला सुनाया.

स्‍थगित हो सकती हैं परीक्षाएं पर रद्द नहीं

अदालत द्वारा जारी फैसले के अनुसार, Collage/University के फाइनल ईयर की परीक्षा स्‍थगित तो किया जा सकता हैं

मगर परीक्षाएं रद्द नहीं किया जा सकता हैं और न ही छात्रों को इंटर्नल मार्क्‍स के आधार पर पास किये जा सकते हैं.

यह भी पढ़े :  Sell Your Old Phone : पुराना मोबाइल बेचना चाहते हैं तो ये वेबसाइट्स आएंगे आपके काम, कीमत भी मिलेगी अच्छी, जाने प्रोसेस

UGC के पास है ये अधिकार

UGC ने अदालत में अपना पक्ष रखते हुए कहा हैं कि देशभर के विश्‍वविद्यालयों को आयोग द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करना अनिवार्य हैं.

इसलिए कोई भी राज्‍य सरकार आयोग के तरफ से जारी निर्देशों के खिलाफ परीक्षा रद्द करने का फैसला नहीं ले सकता. सुप्रीम कोर्ट ने भी UGC आयोग के इस तर्क को सही ठहराया हैं

इन सभी छात्रों को मिलेंगे ग्रेस मार्क्स

मुंबई विश्वविद्यालय ने सभी मान्यता प्राप्त कॉलेजों को यह निर्देश दिया है कि वे उन छात्रों को ग्रेस मार्क्स दें सकते हैं जो मुंबई विश्वविद्यालय अंतिम वर्ष परीक्षा 2020 के लिए उपस्थित होने वाला हैं.

अपने कॉलेज के संपर्क में रहें छात्र

परीक्षा के दिन, Question पेपर ईमेल के माध्यम से या व्हाट्सएप के माध्‍यम से या विभाग या कॉलेज की Website पर छात्रों को उपलब्ध कराये जाएंगे.

इसलिए, छात्रों को यह निर्देश दिए जाते हैं कि वे अपने विभागों /कॉलेजों के साथ संपर्क में रहें ताकि निर्देशों का सही से पालन किये जा सके.

Related Articles

Stay Connected

52,251FansLike
3,026FollowersFollow
2,201SubscribersSubscribe

Business

NAUKRI

ASTROLOGY

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.