Tuesday, January 31, 2023

SBI एटीएम से पैसा निकासी के लिए लागू हो गया यह नियम, जानिए क्या हैं नया नियम

BANKING: अगर आप भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के ग्राहक हैं तो शुक्रवार 18 September से बैंक के ATM से 10,000 रुपये से अधिक राशि की निकासी करते हैं तो इसके लिए “वन टाइम पासवर्ड” (OTP) की जरूरत पड़ेगी.

बैंक द्वारा यह कदम ATM से लेनदेन को सुरक्षित बनाने के लिए उठाये गए हैं. अगर आपको Bank ATM से 10,000 से ज्यादा रुपये निकलना हैं और आप State Bank of India के Customer हैं तो साथ मे अपना मोबाइल फोन साथ ले जाना बिल्कुल भी न भूलें,

वरना OTP दर्ज किए बिना आप पैसे की निकासी नहीं कर पाएंगे. साइबर विशेषज्ञों की माने तो, बैंक द्वारा उठाये गए इस पहल को सुरक्षित बैंकिंग की दृष्टि से उठाया गया अहम कदम माना गया है.

बता दें कि एक जनवरी, 2020 से बैंक द्वारा रात आठ बजे से सुबह आठ बजे तक SBI ATM से 10,000 रुपये से ज्यादा की निकासी के लिए पंजीकृत मोबाइल नंबर पर प्राप्त OTP को डालना जरूरी कर दिया था.

State Bank of India के तरफ से जारी बयान में बताया गया है कि अब किसी भी वक्त पैसे के निकासी के लिए OTP आधारित इस सुविधा को लागू करके Bank ने ATM से नकदी निकासी की सुरक्षा को और भी मजबूत कर दिया हैं.

यह भी पढ़े :  Sarkari Naukri 2023 : DRDO में कई पदों पर भर्ती के लिए आवेदन शुरू, इस विषय से है डिग्री पास तो यहां करें अप्लाई, मिलेगी इतनी स्टाइपेंड

OTP को अनिवार्य बनाए जाने से SBI के Debit कार्डधारकों के साथ होनेवालें धोखाधड़ी पर लगाम लगेगा. साथ ही साथ इससे अनाधिकृत निकासी और कार्ड क्लोनिंग को रोकने में भी मदद मिलेगी.

OTP आधारित यह सिस्टम जानिए कैसे करेगा काम

बता दें कि, One Time Password (OTP) सिस्टम द्वारा जेनरेट किया गया एक Code होता होता है जिसे आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जाता हैं जिसे दर्ज करने की समय अवधि 5 से 15 मिनट तक का होता हैं और इसका इस्तेमाल एक बार के Transaction के लिए किया जाता हैं.

Bank के तरफ से जारी बयान में बताया गया है कि ग्राहक जब SBI ATM से 10,000 रुपये से अधिक की निवासी करते हैं तो उन्हें पंजीकृत मोबाइल नंबर पर प्राप्त OTP को एटीएम मशीन में दर्ज करने होंगे. बता दें कि फिलहाल यह सुविधा SBI ATM में ही उपलब्ध हैं.

SBI के प्रबंधक निदेशक “Challa Sreenivasulu Setty” ने कहा, ”SBI तकनीकी सुधार और सुरक्षा स्तर को और मजबूती देकर ग्राहकों को अधिक सहूलियत एवं सुरक्षा प्रदान करने में हमेशा आगे रहा हैं.

यह भी पढ़े :  Sarkari Naukri 2023 : बिहार आयकर विभाग में अंकेक्षण सहित इन पदों पर निकली बंपर बहाली, आवेदन शुरू, जानिए पात्रता और वेतन

हमारा मानना है कि ATM से निकासी के लिए 24×7 OTP आधारित इस व्यवस्था को लागू किए जाने से SBI के Customer को पैसे की निकासी से जुड़ा अनुभव काफी सुरक्षित और जोखिम मुक्त होगा.”

इस संबंध में तकनीकी विशेषज्ञ बालेंदु शर्मा दाधीच ने बताया कि SBI का यह कदम सुरक्षा की दृष्टि से बहुत जरूरी थीं. दो स्तरीय सुरक्षा होने से धोखाधड़ी का खतरा कम होगा.

उन्होंने कहा कि इस System को सभी Bank को लागू करने चाहिए. दाधीच ने कहा कि छोटे-छोटे लेनदेन के लिए भी इस नियम को लागू किए जाने की आवश्यकता हैं क्योंकि आज हर व्यक्ति के पास मोबाइल फोन उपलब्ध हैं.

उन्होंने बताया कि आने वाले समयों में सभी बैंकों को और इनोवेटिव रुख अपनाने की जरूरत पड़ेगी.

बालेंदु शर्मा दाधीच ने कहा कि भविष्य में ट्रांजैक्शन को और सुरक्षित बनाये रखने के लिए बॉयोमैट्रिक और फेस रिकग्निशन तकनीक को लागू किये जा सकतें हैं.

Related Articles

Stay Connected

52,251FansLike
3,026FollowersFollow
2,201SubscribersSubscribe

Business

NAUKRI

ASTROLOGY

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.