Sunday, March 3, 2024
HomeBiharदुर्गा पूजा को लेकर बिहार सरकार ने जारी की गाइडलाइन, मेले और...

दुर्गा पूजा को लेकर बिहार सरकार ने जारी की गाइडलाइन, मेले और लाउड स्पीकर पर बैन

BIHAR : वैश्विक महामारी COVID-19 के बीच दुर्गा पूजा को लेकर बिहार सरकार ने शुक्रवार को गाइडलाइन जारी कर दिया है कोरोना संक्रमण की वजह से इस बार सूबे में कोई मेला नहीं लगेगा.

इसके अलावें लाउड स्पीकर के इस्तमाल पर भी रोक लगा दिया गया हैं. किसी विशेष थीम पर पंडाल का निर्माण नहीं किया जा सकता हैं. सामूहिक प्रसाद वितरण पर भी रोक रहेगा.

कन्टेनमेंट जोन के बाहर दुर्गा पूजा 2020 के आयोजन के संबंध में निम्नलिखित दिशा निर्देश जारी किया गया हैं.

Bihar Durga Puja Guidelines

👉1. जिला प्रशासन द्वारा यह सुनिश्चित किया जायेगा कि पूजा संबंधी किसी कार्यक्रम से चुनाव आचार संहिता एवं भारत निर्वाचन आयोग के किसी निर्देश का उल्लंघन न हो.

👉2. दुर्गा पूजा का आयोजन मंदिरों में या निजी रूप से घर पर ही किया जाए. मंदिरों आयोजन के लिए निम्नलिखित शर्तें रहेगी :

◼️ मंदिर में पूजा पंडाल/मंडप का निर्माण किसी विशेष विषय (Theme) पर नहीं किया जाएगा.

◼️ इसके आसपास कोई तोरण द्वार अथवा स्वागत द्वार नहीं बनाया जाएगा.

◼️ जिस जगह मूर्तियों रखी गई हैं, उस स्थान को छोड़कर शेष भाग खुला (Open to air) रहेगा.

◼️ सार्वजनिक उद्घोषणा प्रणाली (Public Address System) का उपयोग नहीं किया जाएगा.

◼️ इस अवत्तर पर किसी प्रकार के मेला (Fair) का आयोजन नहीं किया जाएगा.

◼️ पूजा स्थल के आसपास खाद्य पदार्थ का स्टॉक नहीं लगाया जायेगा.

◼️ किसी प्रकार के विसर्जन जुलूस की अनुमति नहीं दी जायेगी। जिला प्रशासन द्वारा निर्मित तरीके से चिन्हित स्थानों पर ही मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा. विसर्जन विजयादशमी (25 अक्टूबर, 2020) को ही पूर्ण कर लिया जायेगा.

◼️ कोई सामुदायिक भोज/प्रसाद या भोग का वितरण नहीं किया जाएगा.

◼️ आयोजकों / पूजा समितियों द्वारा किसी रूप में आमंत्रण पत्र जारी नहीं किया जाएगा.

◼️ मंदिर में पूजा पंडाल/मंडप के उद्घाटन के लिए कोई सार्वजनिक समारोह आयोजित नहीं किया जाएगा.

RELATED ARTICLES
Rahul
Rahulhttp://nearnews.in
Near News is a Digital Media Website which brings the latest updates from across Bihar University, Muzaffarpur, Bihar and India as a whole.
Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.