Monday, March 8, 2021

लाहौर की सड़कों पर क्यों लगा हैं विंग कमांडर अभिनंदन और पीएम मोदी के पोस्टर, जानें पूरा मामला

पाकिस्तान में एक बार फिर भारतीय वायुसेना के पराक्रमी पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान चर्चा का विषय बन गए हैं. उनके और PM Narendra Modi के कई पोस्टर लाहौर की सड़कों पर लगे दिखे हैं.

इन पोस्टरों के माध्यम से नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग के नेता अयाज सादिक के ऊपर निशाना साधा गया है. कई पोस्टरों पर अयाज सादिक को कौम का गद्दार बताते हुए मीर जाफर से तुलना किया गया हैं.

बता दें कि अयाज सादिक ने ही पाकिस्तान की संसद में अभिनंदन की रिहाई को लेकर इमरान सरकार की पोल खोली थी.

अयाज सादिक के निर्वाचन क्षेत्र में लगी तस्वीरें

अयाज सादिक के निर्वाचन क्षेत्र लाहौर की सड़कों की किनारों पर लगे इन पोस्टरों में विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान और पीएम मोदी की तस्वीरें को जानबूझकर लगाई गई हैं.

इसमें ऊर्दू में पीएमएल-एन पार्टी के नेता अयाज सादिक को देशद्रोही करार कर दिया गया है. कुछ पोस्टरों में सादिक को अभिनंदन वर्धमान के रूप में दिखाया गया हैं. कई पोस्टरों में तो अयाज सादिक को भारत का समर्थक भी करार दिया गया है.

इमरान के मंत्री ने भारत भेजने की कही बात

पाकिस्तान के गृह मंत्री (आंतरिक मंत्री) एजाज अहमद शाह ने एक जनसभा के में कहा कि अयाज सादिक को पाकिस्तान से चले जाना चाहिए..

एजाज अहमद शाह ने कहा कि अपनी फौज के खिलाफ जो बात उन्होंने संसद में कहा है उसे वो अमृतसर में जाकर कहें. पूरी पाकिस्तान में अयाज सादिक के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहा हैं.

इमरान सरकार के मंत्री तो अयाज सादिक के खिलाफ मोर्चा खोलकर बैठ गए हैं.

अपने बयान पर कायम हैं सादिक

अयाज सादिक ने पाकिस्तान की संसद में दिए अपने बयान पर अब भी कायम हैं. उन्होंने यह भी कह दिया कि उनके पास कई राज ऐसे है जो आज भी दफन हैं,

लेकिन मैन कभी भी कोई गैरजिम्मेदाराना बयान नहीं दिया हैं. अयाज सादिक कहा कि मैंने राजनीतिक मतभेदों के चलते यह बयान दिया था. इसे पाकिस्तानी सेना के साथ जोड़ना ठीक नहीं है. मैं अपने रुख से इसपर खड़ा हूं और आप इसे भविष्य में देखेंगे.

मैंने पाकिस्तान की राष्ट्रीय सुरक्षा समिति का भी नेतृत्व किया है. हम राजनीतिक लोग हैं और अतीत में भी राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ बयान देते रहे हैं.

अयाज सादिक ने कुछ दिन पहले पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में कहा, भारत के विंग कमांडर अभिनंदन वर्दमान की रिहाई भारत से हमले के डर के की थी.

अयाज सादिक यह भी कहा था कि शाह महमूद कुरैशी उस बैठक में भी थे जिसमें इमरान खान ने आने से साफ इनकार कर दिया था. कुरैशी के पैर कांप रहे थे,

उनके माथे पर पसीना था. कुरैशी ने कहा था खुदा का वास्ता अब इसको (अभिनंदन) वापस जाने दें क्योंकि 9pm बजे रात को हिंदुस्तान पाकिस्तान पर हमला करने वाला हैं.

12925a9378c0ce72ce930f3778bec96c?s=96&d=blank&r=g
Near Newshttp://nearnews.in
Near News is a Digital Media Website which brings the latest updates from across Bihar University, Muzaffarpur, Bihar and India as a whole.

Related Articles

Stay Connected

33,257FansLike
500FollowersFollow
1,000SubscribersSubscribe

Latest Articles

- Advertisement -
error: Copyright © 2020 All Rights Reserved.