Saturday, September 25, 2021

मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकरों की आवाज होगी कम, ध्वनि प्रदूषण रोकने के लिए बड़ा फैसला : शाही सरकार का फरमान जारी

सऊदी अरब बदलाव के दौर से गुजर रहा हैं. वहां के मस्जिदों (Mosque) से नमाज के लिए लाउडस्पीकर के जरिये सुनाई देने वाली आवाज को धीमा किये जाने का शाही सरकार का फरमान जारी हो गया हैं.

दुनिया के सबसे ज्यादा रुतबे वाले देश में कट्टरता (bigotry) की निशानियों को खत्म करते हुए सुधारवादी कदमों को उठाने की मुहिम चल रही है. मस्जिदों (Mosque) से लाउडस्पीकरों की आवाज को कम करने का फैसला भी उन्ही में से एक हैं.

सऊदी अरब बीते वर्षो में महिलाओं को सार्वजनिक जीवन के लिए कई अधिकार दिए हैं. इनमें उन्हें ड्राइविंग का अधिकार, स्टेडियम में जाकर पुरुषों के खेलों को देखने का अधिकार

और गीत-संगीत के कार्यक्रमों में शिरकत करने जैसे अधिकार शामिल हैं. सऊदी अरब को इस्लामी जगत में सबसे पवित्र देश माना गया है क्योंकि यहां पर सबसे ज्यादा महत्व वाले धार्मिक स्थल हैं.

वहीं पर पैगंबर का जन्म हुआ था और वहीं पर उन्होंने ज्यादातर वक्त गुजारा. सऊदी अरब मुस्लिमों की कट्टरपंथी (bigotry) वहाबी सोच वाला देश माना जाता है,

जहां पर महिलाओं और पुरुषों के लिए इस्लाम धर्म (Islam religion) से जुड़े सख्त कानून (law) लागू हैं. तमाम विद्वान मुस्लिम कट्टरता (Muslim bigotry) के लिए वहाबी सोच को जिम्मेदार मानते हैं.

इस्लामी आतंकवाद (Islamic terrorism) के लिए भी यही सोच जिम्मेदार माना जाता हैं. सऊदी अरब इसी धार्मिक कट्टरता (bigotry) को त्यागने की राह पर आगे बढ़ रहा हैं.

तेल संपन्न सऊदी अरब अब उदारीकरण की राह पर चलते हुए अपनी एक नई पहचान बनाना चाहता है. बदलाव का यह रास्ता क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान के नेतृत्व में तय किया जा रहा हैं.

सभी लेटेस्ट सरकारी नौकरी बिहार नोटिफिकेशन से अपडेटेड रहने के लिए इन ग्रुपों को अभी जॉइन करें.

Telegram GroupJoin Now
Facebook GroupAvailable Soon
Whatsapp GroupJoin Now

लाउडस्पीकर पर दिए जाने वाले धार्मिक उपदेशों का समय किया जाए कम

सऊदी सरकार ने मई में एक आदेश जारी कर सभी मस्जिदों (Mosque) को अपने लाउडस्पीकरों की आवाज कम करने के लिए कहा हैं. कहा कि लाउडस्पीकर की आवाज उनकी अधिकतम सीमा के एक तिहाई ही रखा जाए.

साथ ही लाउडस्पीकरों पर दिए जाने वाले धार्मिक उपदेशों का समय भी कम किया जाए. सरकार ने ऐसा देश में बढ़ते ध्वनि प्रदूषण को कम करने के लिए किया हैं.

सऊदी अरब के शहरों और कस्बों में बड़ी संख्या में मस्जिदें (Mosque) हैं. इन मस्जिदों (Mosque) में लाउडस्पीकर लगे हैं. अजान के वक्त और बाकी के समयों पर इनसे उठने वाली आवाज वातावरण में भारी शोर पैदा करती हैं.

इसका दुष्प्रभाव मस्जिदों (Mosque) के आसपास रहने वाले लोगों पर महसूस किया गया हैं. इसके चलते कुछ मस्जिदों (Mosque) से लाउडस्पीकर हटवाने की भी मांग उठी हैं.

इसके साथ ही रेस्टोरेंटों (restaurants) में बजने वाले संगीत पर भी रोक लगाने की मांग उठी हैं. कई शहरों में जायरीनों की आमद-रफ्त (influx of pilgrims) के चलते बड़ी संख्या में रेस्टोरेंट हैं.

इन रेस्टोरेंट में संगीत बजाए जाने को लेकर हमेशा विरोध जताया जाता हैं. सुधार की प्रक्रिया के अंतर्गत इन रेस्टोरेंट से उठने वाली आवाज के लिए भी जल्द ही समय सीमा तय होने की उम्मीद हैं.

Input : Dainik Jagran

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Business

NAUKRI

ASTROLOGY

error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.