Friday, June 25, 2021

जानें, WhatsApp की आखिर ये End-to-end encryption है क्या और कैसे काम करता है

Whatsapp Features : एंड-टू-एंड इनक्रिप्शन Technology मैसेज को सुरक्षित तरीके से Send और Receive करने का जरिया है।

WhatsApp में यह Technology शुरू से नहीं है, लेकिन अभी हाल में इसे जोड़ा गया है. Message की सुरक्षा की भारी मांग के बीच WhatsApp ने इसे उतारा है।

ऐसे काम करता है End-to-end encryption:

मान लीजिए कि यदि आप Whatsapp पर किसी को ‘Hello’ का Message करते हैं.

आपके द्वारा ‘Hello’ सेंड करते ही यह शब्द मशीनी कोड में बदल जाता है. यानि कि यह मशीनी भाषा में ‘Encript’ हो जाता है।

दूसरे एंड पर जिस व्यक्ति को यह भेजा जाता है वहां पर यह ‘Decript’ होता है. यानि कि यह Code फिर ‘Hello’ में बदल जाएगा.

भेजे जाने वाले व्यक्ति से लेकर इसे प्राप्त करने वाले व्यक्ति तक की यह यात्रा ‘Code’ के रूप में होती है.

रास्ते में यदि कोई इसे Hack भी कर लेता है तो वह उस संदेश को Decode नहीं कर पाएगा।

इस तरह से Whatsapp का ‘End-to-end encryption’ यूजर्स की निजता एवं बातचीत एवं Data की सुरक्षा करता है।

गलत हाथों में जाने से रोकता है यह फीचर:

WhatsApp पर यूजर Text Message, Post, Pictures, Video, Voice Message, Document, Status Updates, Call के जरिए एक-दूसरे से जुड़ते हैं।

यह भी पढ़े :  भारत में वापसी के लिए तैयार TikTok, बैन के बावजूद मान रहा यह नए Digital नियम

आपको बता दें की यूजर के Data को सुरक्षित रखना Whatsapp की जिम्मेदारी होती है।

दो लोगों के बीच होने वाली बातचीत Hack न हो और वह गलत हाथों में न पड़े, इसके लिए WhatsApp ने ‘End-to-end encryption’ फीचर की शुरुआत की.

end-to-end encryption के कई फायदे:

बताते चलें की WhatsApp के इस ”End-to-end encryption” के कई फायदे हैं.

सबसे पहले तो यह आपके Data को Hack होने से बचाता है. Hackers यदि आपके Data को Hack भी कर लें तो वे इसे ‘Decript’ नहीं कर पाएंगे.

Whatsapp का यह फीचर आपके Data की निजता Saftey रखता है.

यह फीचर आपकी निजता Saftey रखने के साथ-साथ अभिव्यक्ति की आजादी को सुरक्षा प्रदान करता है।

क्या कहता है WhatsApp:

भारत सरकार ने WhatsApp से कहा है कि किसी भी मैसेज के फर्स्ट ओरिजिनेटर की पहचान करना जरूरी है.

यह भी पढ़े :  भारत में वापसी के लिए तैयार TikTok, बैन के बावजूद मान रहा यह नए Digital नियम

उधर WhatsApp कहता है कि उसका काम यह नहीं है. Message भेजना और पाना केवल Sender और Reciver का काम है. इसमें Whatsapp का कोई लेना-देना नहीं है.

भारत सरकार ने कहा है कि Whatsapp प्राइवेसी पॉलिसी वापस ले, अन्यथा कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Latest Article

RECIPE

NAUKRI NOTIFICATION

ASTROLOGY

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.