Monday, April 12, 2021

बिहार में बेटी हो तो उत्सव मनाएं, जन्म से ही धन लाभ, ऐसे उठाए लाभ, यहां पढ़ें पूरी डिटेल

PATNA: बिहार को लोग लाख पिछड़ा कहें, लेकिन लड़कियों के लिए इस राज्य में सुविधाएं जानकर आप चौंक जाएंगे।

बेटियां शुभ होती हैं, इसलिए इनके जन्म, पढ़ाई, स्वास्थ्य…हर नजरिए से सरकार सुविधा दे रही है।

बेटियां पढ़ें, आगे बढ़ें इसके लिए कई तरह की दी जा रही है रियायतें:

बेटियां पढ़ें, आगे बढ़ें और उनकी शादी में कोई दिक्कत न हो, इसके लिए राज्य सरकार उन्हें कई तरह की रियायतें दे रही हैं।

आर्थिक मदद के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही हैं। कुछ सुविधाएं हर वर्ग के लिए हैं और कुछ खास वर्गों के लिए।

आइए जानते हैं उन योजनाओं के बारे में, जिनसे बिहार की बेटियों को नई उड़ान मिल रही है-

बेटी हो तो मिलते हैं ₹ 5000:

बिहार में “Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana” के तहत बेटी पैदा होने पर अभिभावकों को सरकार ₹ 5,000 देती है।

कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए चलाई जा रही यह योजना:

कन्या भ्रूण हत्या(Sex-Selective Abortion) को रोकने के लिए बिहार सरकार की ओर से यह योजना चलाई जा रही है।

बता दें कि एक परिवार में अधिकतम 2 लड़कियों के लिए है।

इसके तहत लड़की के 18 साल हो जाने पर सरकार कुल ₹ 25,000 Bank A/C में भेजती है।

कैसे उठाएं लाभः

  1. माता-पिता अपना Aadhar Cards, Bank A/C Details और जच्चा-बच्चा की तस्वीर लेकर पास के आंगनबाड़ी केंद्र में जमा कराएं।
  2. बच्ची का फॉर्म अगर 0-1 साल के अंदर भरा जाएगा तो “Birth Certificate” नहीं लगेगा, लेकिन इसके बाद “Birth Certificate” देना अनिवार्य है।
  3. इस योजना का लाभ General, BC और EBC सभी को मिलता है।
  4. बच्ची सरकारी अस्पताल में होती है तो वहीं उसका फॉर्म भरवा दिया जाता है।
  5. घर या “Private Hospital” में हो तो आंगनबाड़ी केंद्र में सेविकाएं ICDS का फॉर्म भरवाएंगी, जिसके बाद सीधे Bank A/C में पैसा जाएगा।
  6. बच्ची अगर 1 साल से कम की है तो उसका “Aadhar Card” नहीं लगेगा, लेकिन डेढ़ साल में सम्पूर्ण टीकाकरण के बाद बच्चे का “Aadhar Card” बनवाना होगा।
  7. ICDS के ऑफिशियल पोर्टल से भी इस फॉर्म को भर सकते हैं।
  8. इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली राशि सीधे Bank A/C में पहुंचेगी।

यहां पढ़ें कैसे मिलेगी राशि:

  1. जन्म के समय अभिभावक को ₹ 2000 की पहली किस्त (First Installment) प्रदान करेगी।
  2. 1 साल की उम्र में ₹ 1000 की दूसरी किस्त (Second Installment) प्रदान करेगी। इसके लिए बच्ची को “Aadhar Card” से जोड़ा जाना चाहिए।
  3. टीकाकरण पूरा होने के बाद ₹ 2,000 की अंतिम किस्त (Final Installment) भी दे दी जाएगी।

सैनिटरी नैपकिन के लिए ₹ 300 :

“Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana” में ही सरकार छात्राओं को माहवारी के दौरान स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने के लिए सैनिटरी पैड(Sanitary Pad) के पैसे भी देती है।

इसके लिए छात्रा को ₹ 300 दिए जाते हैं। पहले ₹ 150 ही दिए जाते थे,

लेकिन अब राशि दोगुनी कर दी गई है। यह भी Bank A/C में ही जाता है।

स्कूल की पोशाक के लिए भी मिलते हैं इतने पैसे:

पहलेअब
पहले 1-2 वर्ष की आयु में ₹ 400₹ 600
3-5 वर्ष की आयु में ₹ 500₹ 700
6-8 वर्ष की आयु के लिए ₹ 700₹ 1000
9 -12 वर्ष की आयु के लिए ₹ 1000₹ 1500

कांट्रैक्ट कर्मियों को भी 180 दिनों की छुट्टी:

बिहार सरकार में स्थायी और संविदा पर कार्यरत सभी महिला कर्मियों को 180 दिन की मैटरनिटी लीव (Parental leave) दी जाती है।

पहले नियोजित शिक्षिकाओं को यह मैटरनिटी लीव (Parental leave) नहीं मिलती थी,

लेकिन अब उन्हें भी 6 महीने की मैटरनिटी लीव (Parental leave) मिलती है।

मातृत्व लाभ (संशोधन) अधिनियम, 2017 के अनुसार गर्भवती महिला 26 सप्ताह के मातृत्व अवकाश (Leisure) की पात्र होती है।

गर्भवती महिलाओं के लिए “Private Company” के लिए मैटरनिटी लीव (Parental leave) की व्यवस्था अलग-अलग है।

यह प्रसव की अनुमानित तिथि से 12 सप्ताह पहले से शुरू हो सकती है।

इस अवकाश के साथ कुछ शर्तें जुड़ी हैं:

  1. महिलाएं पहली दो गर्भावस्था के लिए ही यह अवकाश ले सकती हैं। तीसरा बच्चा होना है तो अवकाश (Leisure) लाभ नहीं मिलेगा।
  2. 10 या इससे ज्यादा कर्मचारियों वाली कंपनी में काम करने वाली महिलाएं इस अवकाश (Leisure) की पात्र हैं।
  3. संशोधित अधिनियम में उन माताओं को भी 12 सप्ताह का वैतनिक अवकाश (Leisure) देने का प्रावधान है,
  4. जिन्होंने 3 माह या उससे छोटे शिशु को गोद लिया है या सरोगेसी से बच्चा हुआ है।
  5. केंद्र सरकार में कार्यरत महिलाओं को बच्चों की देखभाल के लिए 730 दिन का “Child Care Leve” मिलता है।
  6. 18 साल से कम उम्र के नाबालिग बच्चों (Minor Children) के लिए मां छुट्टी ले सकती है।

अन्य महत्वपूर्ण खबरों से अपडेटेड रहने के लिए यहां क्लिक कर हमें Follow करें

InstagramFollow
Facebook PageFollow
Facebook GroupJoin Now
TelegramFollow

cc69ed471275239691e4a361de537090?s=96&d=blank&r=g
S.K. JAINhttps://nearnews.in/
Near News is a Digital Media Website which brings the latest updates from across Bihar University, Muzaffarpur, Bihar and India as a whole.

Related Articles

Stay Connected

33,257FansLike
500FollowersFollow
1,000SubscribersSubscribe

Latest Articles

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.