Saturday, September 25, 2021

बेरोजगारी हमें किस मोड़ पे ले आई, मुर्दाघर में ‘डोम’ के लिए आवेदन करने वालों में इंजीनियर और पोस्टग्रेजुएट भी

बेरोजगार भारत : भारत बेरोजगारी के मामले में नंबर वन पर बना हुआ हैं. पढ़े-लिखे लोग अच्छी खासी डिग्री हाथों में लेकर लेकर सड़को पर घुम रहे हैं.

लेकिन Sarkari Naukri हैं कि मिलने से रही. पिछले दिनों एक आईआईटी इंजीनियर ने ग्रुप डी के पदों के लिये आवेदन किया था. लेकिन ताजा मामला तो उससे भी गया गुजरा हैं. #BerojgarBharat #berojgarbharat

इससे यह पता चलता हैं कि सरकारी नौकरी मिलना कितना मुश्किल हैं, लोग युही नही कहते “बउओ भगवान मिल जथून लेकिन ई सरकारी नौकरी मिले से रहलौं”  

सभी लेटेस्ट सरकारी नौकरी बिहार नोटिफिकेशन से अपडेटेड रहने के लिए इन ग्रुपों को अभी जॉइन करें.

Telegram GroupJoin Now
Facebook GroupAvailable Soon
Whatsapp GroupJoin Now

बता दे कि ये ताजा मामला कोलकाता में एक सरकारी अस्पताल में शवों को संभालने के लिए प्रयोगशाला सहायक के छह पदों पर निकली गई भर्ती के लिए

आवदेन करने वाले उम्मीदवारों में 8000 आवेदकों में इंजीनियर, स्नातक सहित परास्नातक किये उम्मीदवारों ने भी आवेदन किया हैं.

आपको बता दें, मुर्दाघर में बोलचाल में प्रयोगशाला सहायक को ‘डोम’ भी कहा जाता हैं. यह जानकारी चिकित्सा प्रतिष्ठान के एक अधिकारी ने दी हैं.

उन्होंने यह बताया कि नील -रत्न सरकार चिकित्सा कॉलेज सह अस्पताल के Forensic Medicine and Toxicology में ‘डोम’ के

छह पदों पर भर्ती के लिए आवेदन करने वालों में करीब 100 इंजीनियर, 2,200 स्नातक और 500 स्नातकोत्तर उम्मीदवार भी शामिल हैं.

अस्पताल के अधिकारियों ने यह बताया कि कुल आवेदकों में से 84 महिला उम्मीदवार सहित कुल 784 उम्मीदवारों को एक अगस्त को होने वाले लिखित परीक्षा के लिए बुलाया गया हैं.

पिछले साल दिसंबर में निकली भर्ती की इस अधिसूचना के अनुसार इस पद की अहर्ता कम से कम 8वीं पास और उम्र सीमा 18 से 40 साल हैं. वहीं सफल उम्मीदवारों का मासिक वेतन 15,000 रुपए हैं.

अधिकारियों ने बताया, “कई आवेदक नौकरी की योग्यता के हिसाब से ज्यादा पढ़े-लिखे हैं. यह अचंभित करने वाला है कि इंजीनियरिंग,

परास्नातक और स्नातक की डिग्री रखने वालों ने भी इस पद के लिए आवेदन किया. ऐसा पहली बार हुआ.

हमें आम तौर पर उन्हीं लोगों के आवेदन मिलते हैं, जिनके परिवार के ‘लोग पहले से ही ‘डोम’ के रूप में काम कर रहे होते हैं.”

Disclaimer : बेरोजगारी हमें किस मोड़ पे ले आई, टाइटल देने का उद्देश्य पाठकों को यह बताना हैं कि भारत में बेरोजगारी का स्तर इस तरह से बढ़ चुका हैं कि 8वीं पास भर्ती (डोम के पद) सीट के लिए इंजीनियर और पोस्टग्रेजुएट आवेदन कर रहें है.

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Business

NAUKRI

ASTROLOGY

error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.