Monday, September 26, 2022

RRC Group D Exam 2021 : रेलवे ग्रुप डी भर्ती मामले की सुनवाई 26 जुलाई को, जाने क्या है मामला

RRB RRC Group D Exam 2021 : RRB की ग्रुप डी परीक्षा में Online आवेदन के दौरान साढ़े चार लाख छात्रों के Application Form निरस्त करने के मामले की सुनवाई अब 26 July, 2021 को होगी।

सोमवार को मामले की हुई सुनवाई:

बता दें की केंद्रीय प्रशासनिक अधिकरण में सोमवार को मामले की सुनवाई शुरू हुई।

वहीं Video Conferencing के जरिए हुई सुनवाई के बाद अगली सुनवाई के लिए 26 July, 2021 की तारीख तय की गई।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Join FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now
Google FollowClick On Star

टॉप 10 केसों की सूची:

याचिकाकर्ता के अधिवक्ता सिद्धार्थ मिश्र के मुताबिक 26 July, 2021 को टॉप 10 केसों की सूची में इसे रखा गया।

केंद्रीय प्रशासनिक अधिकरण में 2 जजों की बेंच में हुई सुनवाई पर हजारों छात्रों की निगाह लगी रही।

वहीं Application Form रिजेक्ट होने के बाद RRC के रुख से नाराज करीब साढ़े चार लाख छात्र इस लड़ाई को आगे बढ़ा रहे हैं।

उन्हें अब न्यायालय (Court) से उम्मीद है। इस मुद्दे पर आंदोलन छेड़ रविवार को छात्रों ने Twitter पर इसे टॉप ट्रेंड कराया था।

Group ‘D’ परीक्षा, एडमिट कार्ड से संबंधित सभी जानकारी इस टेलीग्राम ग्रुप में मिलेगा : Join Now

जाने क्या है मामला:

बताते चलें की RRC की RRC Group D Exam के लिए 1.15 करोड़ अभ्यर्थियों ने Online Apply किया था।

इसमें RRC ने 5.11 लाख छात्रों के Application Form इनवैलिड Photo और Signature के कारण निरस्त कर दिए।

जब प्रभावित छात्रों ने Tweet और Mail किया तो RRC ने Software की गलती मानते हुए रिजेक्ट Application Form फिर जमा करने को कहा।

बताते चलें की इस बार 44 हजार 422 Application Form मंजूर कर लिए। बचे 4.5 लाख Application Form रिजेक्ट ही माने गए।

वहीं RRC की RRC Group D Exam के लिए जो Photo और Signature को सॉफ्टवेयर ने इनवैलिड माना वही RRB NTPC Exam में मान्य हो गए।

ऐसे में 4.5 लाख छात्रों का भविष्य अधर में लटका तो उन्होंने इस लड़ाई को आगे बढ़ाया।

मुख्य याचिकाकर्ता ने यह बताया:

मुख्य याचिकाकर्ता राकेश यादव ने बताया कि इंसाफ की लड़ाई लड़ रहे हैं। वहीं RRC की खामियों से लाखों छात्रों का सपना टूट रहा है।

वहीं Twitter, Facebook से लाखों लोगों की निगाह इस मुद्​दे पर है, हम यह लड़ाई जीतकर रहेंगे।

अमित मिश्र ने यह बताया:

Social Media पर हजारों छात्रों को जोड़कर मुहिम आगे बढ़ाने वाले अमित मिश्र ने बताया की जब Software की

गड़बड़ी सामने आ गई तो महज कुछ छात्रों का Application Form क्यों मंजूर किया गया। वहीं शेष 4.5 लाख आवेदकों की क्या गलती है।

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Business

NAUKRI

ASTROLOGY

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.