Saturday, July 13, 2024
HomeIndiaWeb Series: जब एक ही परिवार के 11 लोगों...

Web Series: जब एक ही परिवार के 11 लोगों ने की आत्महत्या, दहल गया था पूरा देश, देखिये यह खौफनाक वेब सीरीज

Burari Death Case : हम सब ने कई बार सच्ची घटना पर आधारित Film & Series देखी है। लेकिन वैसी घटना जो पूरे देश को ही दहला दें. ऐसा अपने कम ही सुना होगा. आज के हम अपने इस लेख में आप सभी को दिल को दहला देने वाली एक ख़ौफ़नाक सच्ची कहनी के बारे में बतायेंगे जो देश को रोने पर विवश कर दिया था.

बता दें कि पांच वर्ष पूर्व Delhi के Burari में पूरे 11 लोगों के परिवार ने 30 June और 1 July की दरम्यानी रात्रि में एक साथ फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी जिसे पूरे देश को दहला दिया था. अब इस Case पर OTT Platform Disney+Hotstar पर शुक्रवार को एक Web Series हमारे मध्य लेकर आई है जिससे हमें इसकी भयवता को फिर से चर्चा में सुर्खियों में हैं.

हम आप सभी हमारे प्रिय पाठकों को जानकारी दें कि, इसमें ऐकत्रित परिवार के सभी 11 लोगों की आत्महत्या ने वर्ष 2018 में भारत ही नहीं बल्कि दुनियाभर के नागरिकों के दिल को दहला कर रख दिया था. Burari Suicide Case के नाम से लोगों के दिलों में बसे इस कांड ने दुनियाभर की Media में अपनी स्थान बनाई थी.

Burari death case. Jpg

वहीं हम आप सभी को यह भी बता दें कि, इस मामले की जांच 3 वर्ष पूर्व तक निरंतर चल रही थी फिर इसमें पुलिस ने Closure Report दाखिल कर दी. अब यह मामला फिर एक बार सुर्खियों का केंद्र बना हुआ है. क्योंकि OTT Platform Disney Plus Hotstar पर

इस सच्ची घटना पर आधारित एक वेब सीरीज (Web Series Based on True Incident) रिलीज हुई है. और इसलिए आज हम आप सभी को अपने इस लेख के माध्यम से बतायेंगे की, क्या था ये मामला इसके बारे में विस्तृत जानकारी देंगे.

आज भी पहेली है ये केस

हम आप सभी को यह ब्ययय दें कि, पुलिस ने 3 वर्ष की साल की कार्रवाई के पश्चात इस मामले की Investigation Closed कर दी, मगर Delhi के बुराड़ी लोगों और खासतौर से जहां चुंडावत परिवार का घर स्थित है. उसके आस-पड़ोस में लोगों के लिए यह केस आज भी एक पहेली जैसी ही है.

चूँकि, Delhi Police Investigation में खुलासे के पश्चात भी इतने सवाल खड़े हैं कि शायद ही कभी बुराड़ी में 11 लोगों की हुई मौत का सही राज हमारे मध्य आ सके. लेकिन ये तो तय है कि 11 लोगों ने Suicide ही किया था, लेकिन क्यों किया? इस प्रश्न पर से पर्दा सम्भवत ही कभी उठे.

ललित ने ठाना था अनुसंधान

बता दें कि, घरवालों ने Lalit की अगुवाई में अनुसंधान यानी Research करने की ठानी थी, मगर हो गया हादसा. इसके लिए भाटिया परिवार ने आत्महत्या वाली रात्रि को अतार्थ 30 June से पूर्व तकरीबन 6 दिन तक फांसी पर

लटकने की Practice निरंतर की थी. यह भी पता चला है कि Practice के दौरान सभी परिवार के सदस्य के हाथ खुले रहते थे. लेकिन, घटना यानी 30 June, 2018 की रात्रि को केवल ललित और उसकी पत्नी टीना के हाथ खुले थे और बाकी सबके हांथ बंधे हुए मिले.

ललित की बीवी ने खरीदा था स्टूल

बता दें कि, Delhi Police Crime Branch के अनुसार, CCTव फुटेज में भाटिया परिवार के सदस्य फांसी लगाने हेतु सामान लेकर जाते हुए नजर आये थे. मिले फुटेज में ललित की पत्नी Tina और श्वेता दुकान से स्टूल लेकर घर जाते हुए दिखाई दे रही हैं,

हालांकि इनके बच्चों के हाथों में बिजली के तार मिले थे. जांच के अवधि में इस बात को प्रमाणित किया गया कि, परिवार के सदस्यों ने Stool पर चढ़कर फांसी लगाई थी और सबके हाथ तारों से बंधे थे और बरगद की तरह लटके हुये थे.

बिजली के तार लेकर आए थे बच्चे

बता दें कि, एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा था कि Lalit की पत्नी Tina और भूपेंद्र की पत्नी श्वेता दुकान से स्टूल लेकर आई थीं, यह सब CCTV फुटेज में दिखने को मिला था. वहीं पर यह फुटेज हादसा यानी 30 June की रात्रि तकरीबन 10:04 बजे का है. फुटेज में यह साफ था ही घर के दोनों बच्चे बिजली के तार लेकर आते हुए नजर आ रहे थे.

सीसीटीवी फुटेज ने खोले थे कई राज

वहीं इस मामले को लेकर Crime Branch Team ने 29 June की सुबह से देर रात्रि तक Lalit के घर के आसपास में रहने वाली कई महिलाओं व पुरुषों से यहां तक पड़ोसी से भी मरने वाले सभी 11 लोगों के स्वभाव के बारे में पूरी तरह से पूछताछ की, तो वहीं Crime Branch Team 30 June को जब Burari के संत नगर की गली नंबर 2 में पहुँची और जांच की तो चार CCTV Cameras लगे हुए बरामद हुये.

बता दें कि, एक Cameras मंदिर के पास, एक ललित के मकान के Front, एक उसकी दुकान के सामने व एक गली के अंतिम छोर पर पाया गया. तो वहीं चारों कैमरे की फुटेज की Test करने के पश्चात क्राइम ब्रांच को सनसनीखेज जानकारी प्राप्त हुई थी.

Crime Branch Team ने जब दुकान के कर्मचारी Sunil से पूछताछ की तो पता लगा कि, उसने चार Stool खरीदने की पुष्टि कर दी थी. इससे यह सिद्ध हो रहा है कि फंदे पर लटकने का Plan सभी सदस्यों ने सामूहिक रूप से पहले ही बना ली थी, आशंका है किसी Stool का एक व्यक्ति तो किसी का दो लोगों ने मिलकर उपयोग किया हो.

ललित खुद टेप लेकर आया था

बता दें कि, यहां तक दूसरे CCTV फुटेज में ललित ने Polythene में कुछ सामान लेकर आता हुआ दिख रहा है. Polythene में Doctor tape और काली वस्तु देखने को मिली. फिर पुलिस के पूछताछ में सामने आया है कि, ललित या परिवार का कोई अन्य सदस्य कभी भी खुद सामान लेने नहीं जाया करते थे, लेकिन वह विशेष रूप से Tape लेने के लिए Shop में गए थे.

वहीं ये भी जानकारी मिली थी कि, ललित ने अपने पूरे परिवार हेतु बाहर से खाना Order किया था, लेकिन खाना लेने के पश्चात ललित ने युवक को पैसे नहीं दिए. उसने युवक को पैसे लेने के लिए भूपेंद्र के पास भेज दिया था.

पढ़ें क्या लिखा था डायरी के पन्नों में

बता दें कि, बरामद हुई बेहद सुंदर व आकृति में छोटी डायरी में परिवार की बेटी Priyanka की थी. जिसने शुरुआत ही इस बात से की थी कि मैं जो बात आपको बताने जा रही हूं, उससे मैं आपकी नजरों से गिर सकती हूं. वही Next Page वह Model Town में रहने वाले एक लड़के का नाम लिखते हुए उसे अपना मित्र कहती है और यह भी लिखती है कि अब वह घर खाली करके जा चुका है.

इसके पश्चात अगले पेज पर Priyanka जीवन के बारे में उसके मामा ललित द्वारा मिली नसीहतों की चर्चा करती है. यह भी अहसास दिलाने की प्रयास करती है कि वह विवाह के पश्चात अपने ससुराल में ठीक से रहेगी. वहां सभी को खुश रखेगी और किसी को शिकायत का मौका नहीं देगी. वहीं इस डायरी के अंत के कुछ पेज खाली मिले थे.

पुलिस ने क्लोजर रिपोर्ट में कही ये बात

बाहरी दिल्ली के बुराड़ी इलाके में चुंडावत Family के 11 सदस्यों की मौत को लेकर दाखिल दिल्ली पुलिस ने अपनी Closure Report में बताया कि, इसमें किसी भी प्रकार की कोई गड़बड़ी का पता नहीं चला है और मौतें एक पारिवारिक आत्महत्या समझौते का नतीजा हैं.

बता दें कि Delhi Police 11 लोगों की मौत की घटना में हत्या का मामला दर्ज किया था. मगर तीन वर्ष के पश्चात की जांच में निष्कर्ष निकाला कि यह एक आत्मघाती समझौते का मामला था.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नियर न्यूज टिम रोज़ाना अपने विवर के लिए सरकारी योजना और लेटेस्ट गवर्नमेंट जॉब सहित अन्य महत्वपूर्ण खबर पब्लिश करती है, इसकी जानकारी व्हाट्सअप और टेलीग्राम के माध्यम से प्राप्त कर सकतें हैं। हमारा यह आर्टिकल आपको उपयोगी लगा हों तो अपने दोस्तों को शेयर कर हमारा हौसलाफ़जाई ज़रूर करें।

संबंधित खबरें

Nika Chauhan
Nika Chauhan
निका चौहान Near News में एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के न्यूज जैसे टेक, इंटरटेनमेंट, व वायरल खबर से सम्बंधित न्यूज लिखते हैं। ये वायरल खबर से परिचित रहना पसंद करते हैं। इन्हें [email protected] पर संपर्क किया जा सकता है।

Most Popular

- Advertisment -
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
HomeIndiaWeb Series: जब एक ही परिवार के 11 लोगों ने की आत्महत्या,...

Web Series: जब एक ही परिवार के 11 लोगों ने की आत्महत्या, दहल गया था पूरा देश, देखिये यह खौफनाक वेब सीरीज

Burari Death Case : हम सब ने कई बार सच्ची घटना पर आधारित Film & Series देखी है। लेकिन वैसी घटना जो पूरे देश को ही दहला दें. ऐसा अपने कम ही सुना होगा. आज के हम अपने इस लेख में आप सभी को दिल को दहला देने वाली एक ख़ौफ़नाक सच्ची कहनी के बारे में बतायेंगे जो देश को रोने पर विवश कर दिया था.

बता दें कि पांच वर्ष पूर्व Delhi के Burari में पूरे 11 लोगों के परिवार ने 30 June और 1 July की दरम्यानी रात्रि में एक साथ फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी जिसे पूरे देश को दहला दिया था. अब इस Case पर OTT Platform Disney+Hotstar पर शुक्रवार को एक Web Series हमारे मध्य लेकर आई है जिससे हमें इसकी भयवता को फिर से चर्चा में सुर्खियों में हैं.

हम आप सभी हमारे प्रिय पाठकों को जानकारी दें कि, इसमें ऐकत्रित परिवार के सभी 11 लोगों की आत्महत्या ने वर्ष 2018 में भारत ही नहीं बल्कि दुनियाभर के नागरिकों के दिल को दहला कर रख दिया था. Burari Suicide Case के नाम से लोगों के दिलों में बसे इस कांड ने दुनियाभर की Media में अपनी स्थान बनाई थी.

Burari death case. Jpg

वहीं हम आप सभी को यह भी बता दें कि, इस मामले की जांच 3 वर्ष पूर्व तक निरंतर चल रही थी फिर इसमें पुलिस ने Closure Report दाखिल कर दी. अब यह मामला फिर एक बार सुर्खियों का केंद्र बना हुआ है. क्योंकि OTT Platform Disney Plus Hotstar पर

इस सच्ची घटना पर आधारित एक वेब सीरीज (Web Series Based on True Incident) रिलीज हुई है. और इसलिए आज हम आप सभी को अपने इस लेख के माध्यम से बतायेंगे की, क्या था ये मामला इसके बारे में विस्तृत जानकारी देंगे.

आज भी पहेली है ये केस

हम आप सभी को यह ब्ययय दें कि, पुलिस ने 3 वर्ष की साल की कार्रवाई के पश्चात इस मामले की Investigation Closed कर दी, मगर Delhi के बुराड़ी लोगों और खासतौर से जहां चुंडावत परिवार का घर स्थित है. उसके आस-पड़ोस में लोगों के लिए यह केस आज भी एक पहेली जैसी ही है.

चूँकि, Delhi Police Investigation में खुलासे के पश्चात भी इतने सवाल खड़े हैं कि शायद ही कभी बुराड़ी में 11 लोगों की हुई मौत का सही राज हमारे मध्य आ सके. लेकिन ये तो तय है कि 11 लोगों ने Suicide ही किया था, लेकिन क्यों किया? इस प्रश्न पर से पर्दा सम्भवत ही कभी उठे.

ललित ने ठाना था अनुसंधान

बता दें कि, घरवालों ने Lalit की अगुवाई में अनुसंधान यानी Research करने की ठानी थी, मगर हो गया हादसा. इसके लिए भाटिया परिवार ने आत्महत्या वाली रात्रि को अतार्थ 30 June से पूर्व तकरीबन 6 दिन तक फांसी पर

लटकने की Practice निरंतर की थी. यह भी पता चला है कि Practice के दौरान सभी परिवार के सदस्य के हाथ खुले रहते थे. लेकिन, घटना यानी 30 June, 2018 की रात्रि को केवल ललित और उसकी पत्नी टीना के हाथ खुले थे और बाकी सबके हांथ बंधे हुए मिले.

ललित की बीवी ने खरीदा था स्टूल

बता दें कि, Delhi Police Crime Branch के अनुसार, CCTव फुटेज में भाटिया परिवार के सदस्य फांसी लगाने हेतु सामान लेकर जाते हुए नजर आये थे. मिले फुटेज में ललित की पत्नी Tina और श्वेता दुकान से स्टूल लेकर घर जाते हुए दिखाई दे रही हैं,

हालांकि इनके बच्चों के हाथों में बिजली के तार मिले थे. जांच के अवधि में इस बात को प्रमाणित किया गया कि, परिवार के सदस्यों ने Stool पर चढ़कर फांसी लगाई थी और सबके हाथ तारों से बंधे थे और बरगद की तरह लटके हुये थे.

बिजली के तार लेकर आए थे बच्चे

बता दें कि, एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा था कि Lalit की पत्नी Tina और भूपेंद्र की पत्नी श्वेता दुकान से स्टूल लेकर आई थीं, यह सब CCTV फुटेज में दिखने को मिला था. वहीं पर यह फुटेज हादसा यानी 30 June की रात्रि तकरीबन 10:04 बजे का है. फुटेज में यह साफ था ही घर के दोनों बच्चे बिजली के तार लेकर आते हुए नजर आ रहे थे.

सीसीटीवी फुटेज ने खोले थे कई राज

वहीं इस मामले को लेकर Crime Branch Team ने 29 June की सुबह से देर रात्रि तक Lalit के घर के आसपास में रहने वाली कई महिलाओं व पुरुषों से यहां तक पड़ोसी से भी मरने वाले सभी 11 लोगों के स्वभाव के बारे में पूरी तरह से पूछताछ की, तो वहीं Crime Branch Team 30 June को जब Burari के संत नगर की गली नंबर 2 में पहुँची और जांच की तो चार CCTV Cameras लगे हुए बरामद हुये.

बता दें कि, एक Cameras मंदिर के पास, एक ललित के मकान के Front, एक उसकी दुकान के सामने व एक गली के अंतिम छोर पर पाया गया. तो वहीं चारों कैमरे की फुटेज की Test करने के पश्चात क्राइम ब्रांच को सनसनीखेज जानकारी प्राप्त हुई थी.

Crime Branch Team ने जब दुकान के कर्मचारी Sunil से पूछताछ की तो पता लगा कि, उसने चार Stool खरीदने की पुष्टि कर दी थी. इससे यह सिद्ध हो रहा है कि फंदे पर लटकने का Plan सभी सदस्यों ने सामूहिक रूप से पहले ही बना ली थी, आशंका है किसी Stool का एक व्यक्ति तो किसी का दो लोगों ने मिलकर उपयोग किया हो.

ललित खुद टेप लेकर आया था

बता दें कि, यहां तक दूसरे CCTV फुटेज में ललित ने Polythene में कुछ सामान लेकर आता हुआ दिख रहा है. Polythene में Doctor tape और काली वस्तु देखने को मिली. फिर पुलिस के पूछताछ में सामने आया है कि, ललित या परिवार का कोई अन्य सदस्य कभी भी खुद सामान लेने नहीं जाया करते थे, लेकिन वह विशेष रूप से Tape लेने के लिए Shop में गए थे.

वहीं ये भी जानकारी मिली थी कि, ललित ने अपने पूरे परिवार हेतु बाहर से खाना Order किया था, लेकिन खाना लेने के पश्चात ललित ने युवक को पैसे नहीं दिए. उसने युवक को पैसे लेने के लिए भूपेंद्र के पास भेज दिया था.

पढ़ें क्या लिखा था डायरी के पन्नों में

बता दें कि, बरामद हुई बेहद सुंदर व आकृति में छोटी डायरी में परिवार की बेटी Priyanka की थी. जिसने शुरुआत ही इस बात से की थी कि मैं जो बात आपको बताने जा रही हूं, उससे मैं आपकी नजरों से गिर सकती हूं. वही Next Page वह Model Town में रहने वाले एक लड़के का नाम लिखते हुए उसे अपना मित्र कहती है और यह भी लिखती है कि अब वह घर खाली करके जा चुका है.

इसके पश्चात अगले पेज पर Priyanka जीवन के बारे में उसके मामा ललित द्वारा मिली नसीहतों की चर्चा करती है. यह भी अहसास दिलाने की प्रयास करती है कि वह विवाह के पश्चात अपने ससुराल में ठीक से रहेगी. वहां सभी को खुश रखेगी और किसी को शिकायत का मौका नहीं देगी. वहीं इस डायरी के अंत के कुछ पेज खाली मिले थे.

पुलिस ने क्लोजर रिपोर्ट में कही ये बात

बाहरी दिल्ली के बुराड़ी इलाके में चुंडावत Family के 11 सदस्यों की मौत को लेकर दाखिल दिल्ली पुलिस ने अपनी Closure Report में बताया कि, इसमें किसी भी प्रकार की कोई गड़बड़ी का पता नहीं चला है और मौतें एक पारिवारिक आत्महत्या समझौते का नतीजा हैं.

बता दें कि Delhi Police 11 लोगों की मौत की घटना में हत्या का मामला दर्ज किया था. मगर तीन वर्ष के पश्चात की जांच में निष्कर्ष निकाला कि यह एक आत्मघाती समझौते का मामला था.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नियर न्यूज टिम रोज़ाना अपने विवर के लिए सरकारी योजना और लेटेस्ट गवर्नमेंट जॉब सहित अन्य महत्वपूर्ण खबर पब्लिश करती है, इसकी जानकारी व्हाट्सअप और टेलीग्राम के माध्यम से प्राप्त कर सकतें हैं। हमारा यह आर्टिकल आपको उपयोगी लगा हों तो अपने दोस्तों को शेयर कर हमारा हौसलाफ़जाई ज़रूर करें।

RELATED ARTICLES
Nika Chauhan
Nika Chauhan
निका चौहान Near News में एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के न्यूज जैसे टेक, इंटरटेनमेंट, व वायरल खबर से सम्बंधित न्यूज लिखते हैं। ये वायरल खबर से परिचित रहना पसंद करते हैं। इन्हें [email protected] पर संपर्क किया जा सकता है।
Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.

Most Popular

- Advertisment -