Tuesday, January 31, 2023

मच्छरों के काटने से फैलता है कोरोना वायरस?

बारिश की मौसम में मच्छरों के काटने पर डेंगू व मलेरिया जैसी बीमारियों का खतरा काफी बढ़ जाता है.

ऐसे में इस बात की शंका लोगों के मन में हैं कि क्या मच्छरों के काटने पर कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण फैलता है?

वैज्ञानिकों द्वारा पहली बार इस बात का पुष्टि कीया गया है कि कोविड-19 कोरोना वायरस मच्छरों के माध्यम से नही फैलता.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी कहा है कि यह बीमारी मनुष्यों में मच्छरों के काटने से नहीं फैल सकता.

मच्छरों के काटने पर कोरोना वायरस के फैलने की क्षमता को जांच किया जा सकें इसके लिये साइंटिफिक रिपोर्ट्स शोध पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन में पहली बार प्रायोगिक तौर पर एकत्रित आंकड़े प्रस्तुत किया गया हैं.

अमेरिका के कंसास स्टेट विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ता और शोध पत्र के सह लेखक स्टीफेन हिग्स द्वारा कहा गया कि,

‘विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा पक्के तौर पर यह कहा गया है कि मच्छरो के काटने से वायरस नहीं फैल सकता. हमारी ओर से जो अध्ययन किया है गया है उसमें इस दावे को पुष्ट करने के लिए पहली बार प्रामाणिक तौर पर आंकड़ो को प्रस्तुत किया गया हैं.’

यह भी पढ़े :  BRABU PG 1st Sem. Practical Exam : आज से शुरू होगी पीजी प्रथम सेमेस्टर की प्रायोगिक परीक्षा, जानिए जरूरी गाइडलाइंस

विश्वविद्यालय के जैवसुरक्षा अनुसंधान संस्थान में किये गए अध्ययन के मुताबिक वायरस मच्छरों की तीन आम प्रजातियों में प्रजनन कर पाने में असमर्थ है और इसलिए वायरस मच्छरों के द्वारा मनुष्यों तक नहीं पहुंच सकती हैं।

Term Insurance से अपने परिवार को दें आर्थिक सुरक्षा कवच, कम प्रीमियम मे ज्यादा फायदा

वैज्ञानिकों के द्वारा यह कहा गया कि यदि किसी संक्रमित व्यक्ति को मच्छर काट ले तो भी उस व्यक्ति के रक्त में मौजूद कोरोना वायरस मच्छर के भीतर जीवित रह ही नही सकता।

इसलिए उसी मच्छर के द्वारा कोई दूसरे व्यक्ति को काटने पर कोरोना वायरस संक्रमण फैलने का खतरा बिल्कुल भी नहीं है.

New Ration Card Download : नया राशनकार्ड बनकर हुआ तैयार, यहां से करें Download

📲 व्हाट्सप्प ग्रुप के लिए : यहाँ क्लिक करें। ✔

📲 फेसबुक पेज के लिए : यहाँ क्लिक करें। ✔

📲 फेसबुक ग्रुप के लिए : यहाँ क्लिक करें। ✔

Related Articles

Stay Connected

52,251FansLike
3,026FollowersFollow
2,201SubscribersSubscribe

Business

NAUKRI

ASTROLOGY

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.