Wednesday, June 23, 2021

ऐसे कर सकते हैं असली और नकली सोने की पहचान, हॉलमार्किंग के नियमों में हुआ यह बड़ा बदलाव

NEW DELHI : Hallmarking को लेकर Government ने नियमों में बड़ा बदलाव(Big Change) किया है।

अब 16 June, 2021 से अब कोई भी बिना Hallmarking के सोना(Gold) नहीं बेच पाएगा।

धोखाधड़ी को रोकने के लिए सरकार ने नियमों में किया बदलाव:

बता दें की सोने(Gold) के नाम पर हो रही धोखाधड़ी को रोकने(Prevent Froud) के लिए Government की तरफ से नियमों में Big Change किया गया है।

आइए जानते हैं कि कैसे कोई भी व्यक्ति सोने की शुद्धता (Gold Purity) का पहचान कर सकता है।

क्या है Hallmarking:

Hallmark सरकारी गारंटी है। Hallmark का निर्धारण भारत की एकमात्र एजेंसी ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड (BIS) करती है।

बता दें की Hallmarking में किसी उत्पाद को तय मापदंडों पर प्रमाणित किया जाता है।

भारत में BIS वह संस्था है, जो Consumers को उपलब्ध कराए जा रहे गुणवत्ता स्तर(Quality Level) की जांच करती है।

सोने के सिक्के(Gold Coins) या गहने(Jewelry) कोई भी सोने का आभूषण जो BIS द्वारा Hallmark किया गया है, उस पर BIS का लोगो लगाना जरूरी है।

इससे पता चलता है कि BIS की License प्राप्त प्रयोगशालाओं(Laboratories) में इसकी शुद्धता की जांच की गई है।

Hallmark की पांच पहचान:

  • असली Hallmark पर BIS का तिकोना निशान होता है
  • उस पर Hallmarking केन्द्र का लोगो होता है
  • सोने की शुद्धता(Gold Purity) भी लिखी होती है
  • Jewelry निर्माण का वर्ष
  • उत्पादक(Producer) का Logo भी होता है।

ऐसे बनाये रुई जैसी सॉफ्ट रेसिपी की सभी बोलेंगे हमे भी बताओ : यहां क्लिक कर वीडियो देखें

ऐसे करें शुद्धता की पहचान:

  • 24 कैरेट शुद्ध सोने(Pure Gold) पर 999 लिखा होता है।
  • 22 कैरेट की Jewelry पर 916 लिखा होता है।
  • 21 कैरेट Gold की पहचान 875 लिखा होता हैं।
  • 18 कैरेट की Jewelry पर 750 लिखा होता है।
  • 14 कैरट Jewelry पर 585 लिखा होता है।
यह भी पढ़े :  LIC की शानदार पॉलिसी! एक बार करें निवेश, Retirement पर नहीं होगी रुपयों की किल्‍लत

ज्यादा महंगी नहीं होती Hallmark ज्वेलरी:

Hallmark की वजह से ज्यादा महंगा होने के नाम पर Jeweler आपको बगैर Hallmark वाली सस्ती Jewelry की पेशकश करता है तो सावधान हो जाइए।

विशेषज्ञों का का कहना है कि प्रति Jewelry हॉलमार्क का खर्च महज 35 रुपये आता है। सोना खरीदते(Buy Gold) वक्त आप Authenticity/Purity सर्टिफिकेट लेना न भूलें।

Certificate में सोने की कैरेट(Gold Carat) गुणवत्ता भी जरूर चेक कर लें। साथ ही सोने की ज्वेलरी(Gold Jewelery) में लगे Gem stone के लिए भी एक अलग Certificate जरूर लें।

यह भी पढ़े :  LIC की शानदार पॉलिसी! एक बार करें निवेश, Retirement पर नहीं होगी रुपयों की किल्‍लत

क्यों जरूरी:

उपभोक्ताओं को नकली उत्पादों से बचाने और कारोबार की निगरानी के लिए Hallmarking बेहद जरूरी है।

Hallmarking का फायदा यह है कि जब आप इसे बेचने जाएंगे तो किसी तरह की Depreciation Cost नहीं

काटी जाएगी यानी आपको सोने(Gold) का वाजिब दाम मिलेगा। Hallmarking में उत्पाद कई चरणों में गुजरता है।

ऐेसे में Quality में किसी तरह की गड़बड़ी की गुंजाइश कर रहती है। साथ बाजार में Gold की खरीद-बिक्री(Buy Sell) पर नजर रखने में मददगार होता है।

जरूरत पड़ने पर जांच Agencies कई संस्थानों के आंकड़ों का मिलान कर गड़बड़ी का पता लगा सकती हैं।

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Latest Article

RECIPE

NAUKRI NOTIFICATION

ASTROLOGY

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.