Saturday, March 6, 2021

मैट्रिक परीक्षा- 2021 में परीक्षार्थी नकल करते मिले तो वीक्षक और केंद्राधीक्षक पर भी होगी कार्रवाई, यहां पढ़ें पूरी डिटेल

पटना: BSEB ने 17 फरवरी से आयोजित होने वाली “BSEB 10Th Exam- 2021” में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों के लिए महत्वपूर्ण गाइडलाइन जारी किया है।

जारी गाइडलाइन के मुताबिक “BSEB 10Th Exam- 2021” में कोई परीक्षार्थी कदाचार के आरोप में पकड़े जाते हैं, तो 2 हजार रुपये का जुर्माना या 6 माह का जेल हो सकती हैं।

अथवा दोनों सजा एक साथ हो सकती हैं।

बता दें कि यह जानकारी प्रतिदिन “Examination Hall” के “Black Board” पर परीक्षा प्रारंभ होने से पहले दी जाएगी।

BSEB के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि “BSEB 10Th Exam- 2021” में कदाचार पर शिक्षक, कर्मी, होमगार्ड व पुलिसबल आदि के खिलाफ भी कठोर कार्रवाई की जाएगी।

इसके अलावा कदाचार में शामिल कर्मी के खिलाफ जिलाधिकारी द्वारा विभागीय कार्रवाई की अनुशंसा की जाएगी।

वीक्षक और केंद्राधीक्षक पर होगी कार्रवाई:

BSEB के अध्यक्ष ने बताया कि “BSEB 10Th Exam- 2021” में अगर किसी “Examination Hall” में निरीक्षण के क्रम में परीक्षार्थी सामूहिक रूप से कदाचार करते पाए गए तो उसके लिए वीक्षक को ही जिम्मेदार माना जाएगा।

उस वीक्षक के खिलाफ भी परीक्षा संचालन अधिनियम के तहत कठोर कार्रवाई की जाएगी। साथ ही केंद्राधीक्षक को भी इसके लिए जिम्मेदार माना जाएगा।

निष्कासन की सूचना BSEB Mobile App से:

BSEB के अध्यक्ष ने बताया कि कदाचार के आरोप में निष्कासित परीक्षार्थियों की सूची DM, DEO एवं BSEB एवं Exam Controller को Email एवं Fax के माध्यम से दी जाएगी।

इसके अलावा BSEB को “BSEB Examination App” के माध्यम से भी भेजी जाएगी।

BSEB Mobile App होगा बोर्ड के लिए सहायक:

BSEB की ओर से “BSEB 10Th Exam- 2021” में “BSEB Examination App” का उपयोग किया जाएगा।

“BSEB Mobile App” के माध्यम से परीक्षा केंद्रों(Examination Centres) से BSEB को प्रत्येक पाली में अनुपस्थित(Absent) होने वाले एवं निष्कासित(Expelled) होने वाले परीक्षार्थियों की सूची भेजी जाएगी।

इससे BSEB समय रहते किसी प्रकार की त्रुटि में सुधार कर सकती है।

BSEB Mobile App के इस्‍तेमाल से हो रहा सुधार:

आपको बता दें BSEB ने पिछले वर्ष भी “BSEB Examination App” का उपयोग किया था। इससे डाटा संग्रह में काफी सहायता मिली थी।

साथ ही परीक्षा प्रणाली की गुणवता में भी सुधार हुआ है। इस वर्ष भी “BSEB Examination App” का उपयोग करेगा ताकि उसे सही-सही डाटा मिल सके।

इससे शिक्षण संस्थानों, विद्यार्थियों एवं अभिभावकों को काफी सुविधा होगी।

100% डाटा होने पर होगा मानदेय का भुगतान:

साथ ही BSEB ने यह भी निर्देश दिया है कि कर्मियों के मानदेय का भुगतान तभी किया जाएगा, जब उनके द्वारा 100% सही-सही डाटा भेजा जाएगा।

Bihar Board + Sarkari Naukri + Scholarship से संबंधित सभी Important News पाने के लिए ग्रुप को JOIN कर पेज को LIKE करें

Whatsapp GroupClick Here
Facebook GroupJOIN Now
Facebook PageClick Here

cc69ed471275239691e4a361de537090?s=96&d=blank&r=g
S.K. JAINhttps://nearnews.in/
Near News is a Digital Media Website which brings the latest updates from across Bihar University, Muzaffarpur, Bihar and India as a whole.

Related Articles

Stay Connected

33,257FansLike
500FollowersFollow
1,000SubscribersSubscribe

Latest Articles

- Advertisement -
error: Copyright © 2020 All Rights Reserved.