Thursday, June 24, 2021

बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा में परीक्षा केंद्र पर तैनात कर्मी मना रहे छुट्टी, ड्यूटी करते धराये फर्जी कर्मी

पटना: BSEB की ओर से संचालित हो रही “BSEB 10Th Exam- 2021” के परीक्षा केंद्र “Takshshila Vidhyapith, Sabour, Bhagalpur” का निरीक्षण करने शनिवार को क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक देवेंद्र कुमार झा केंद्र पर पहुंचे।

परीक्षा केंद्र पर परीक्षार्थी कर रहे थे शोरगुल:

जांच रिपोर्ट के अनुसार “BSEB 10Th Exam- 2021” परीक्षा केंद्र पर परीक्षार्थी शोरगुल कर रहे थे।

अरुण कुमार को बनाया गया है केंद्रधीक्षक:

केंद्रधीक्षक के रूप में निजी विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य नितेश रंजन को कार्य करते पाया गया।

RDDE की जांच रिपोर्ट के अनुसार BSEB ने उक्त परीक्षा केंद्र के केंद्राधीक्षक अरुण कुमार को बनाया है।

DEO को रिपोर्ट बनाकर RDDE कार्यालय को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया. जांच में 5 ऐसे लोगों को परीक्षा केंद्र पर पाया गया, जिन्हें परीक्षा ड्यूटी नहीं मिली है.

RDDE ने DEO को निर्देश दिया कि “Takshshila Vidhyapith, Sabour, Bhagalpur” के केंद्राधीक्षक को अविलंब बदला जाये.

वहीं शेष बची परीक्षा को अपनी निगरानी में पूरा कराने की बात कही।

केंद्राधीक्षक बनाने पर संचिका प्रभारी से शोकॉज:

निजी स्कूल के प्रभारी प्राचार्य को “BSEB 10Th Exam- 2021” के लिए केंद्राधीक्षक बनाने पर संचिका प्रभारी से शोकॉज करने को कहा.

वहीं परीक्षा केंद्र के केंद्राधीक्षक से रिपोर्ट देने को कहा गया, जिसमें अवैध लोगों को किस कारण से “BSEB 10Th Exam- 2021” के परीक्षा कार्य में लगाया है।

मामले पर DEO संजय कुमार ने Media को बताया कि पत्र का समुचित जवाब RDDE को दिया जायेगा।

यह भी पढ़े :  इंटर में एडमिशन के लिए चौथे दिन शुरू हुई ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया, इतने संस्थानों का कटऑफ नहीं किया गया अपलोड

“BSEB 10Th Exam- 2021” परीक्षा केंद्र की जांच रिपोर्ट के अनुसार, परीक्षा केंद्र “Takshshila Vidhyapith, Sabour, Bhagalpur” पर शनिवार को महज 20 शिक्षकों को वीक्षण कार्य में लगाया गया थाः

कुल आवंटित वीक्षक 72 हैं, वहीं जिला शिक्षा कार्यालय से भी 15 शिक्षक दिये गये हैं.

निजी विद्यालय प्रधान के होते है करीबी:

रिपोर्ट में लिखा है कि स्पष्ट है कि वीक्षण कार्य के नाम पर आवंटित शिक्षक को अवकाश पर रखा जाता है. वैसे लोगो को वीक्षण कार्य में लगाया जाता है, जो निजी विद्यालय प्रधान के करीबी होते हैं।

आवंटित वीक्षकों से लिया गया प्रमाण पत्र भी केंद्राधीक्षक उपलब्ध नहीं करा रहे।

RDDE ने बताया कि शनिवार को “First Sitting” में 421 आवंटित परीक्षार्थी थे, इस प्रकार कम से कम 40 वीक्षक को परीक्षा ड्यूटी में लगाना चाहिये था।

मांगी गई निजी स्कूलों में बने परीक्षा केंद्रों की सूची:

जांच रिपोर्ट के अनुसार DEO से भागलपुर जिले के निजी स्कूलों में बने “BSEB 10Th Exam- 2021” के परीक्षा केंद्र की सूची मांगी गयी।

यह भी पढ़े :  इंटर में एडमिशन के लिए चौथे दिन शुरू हुई ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया, इतने संस्थानों का कटऑफ नहीं किया गया अपलोड

भागलपुर जिले के वैसे परीक्षा केंद्रों की सूची मांगी गयी जहां DEO द्वारा नामित केंद्राधीक्षक बने हैं।

रिपोर्ट में “BSEB 10Th Exam- 2021” के परीक्षा केंद्र की कमरों की संख्या, उपयोग में लाये गये कमरे, आरक्षी बल की संख्या समेत अन्य सूचनाएं दी गयी है।

Bihar Board + Naukri + Scholarship + अन्य महत्वपूर्ण खबरों से अपडेटेड रहने के लिए ग्रुप को JOIN कर हमें अभी फॉलो करें

Facebook GroupJoin Now
Telegram Join Now
Sarkari NaukriJoin Now
InstagramFollow
Facebook PageFollow
Whatsapp GroupJoin Now

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Latest Article

RECIPE

NAUKRI NOTIFICATION

ASTROLOGY

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.