Tuesday, June 15, 2021

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय में तीन वर्षीय स्नातक कोर्स चार से पांच वर्षों में हो रहा पूरा, विद्यार्थियों का भविष्य दांव पर, पढ़ें पूरी डिटेल

MUZAFFARPUR  : BRABU में तीन वर्षीय स्नातक कोर्स(There Year Degree Course) चार से पांच वर्षों में पूरा हो रहा है।

इसके बाद पेंडिग रिजल्ट(Pending Result) का चक्कर फंसा तो एक दो वर्ष और समय लग ही जाएगा।

किसी तरह पास कर गए तो Degree के लिए Online Apply के बाद चार से पांच वर्षाें का समय लग सकता है।

BRABU की लापरवाही के कारण विद्यार्थियों का भविष्य दांव पर:

BRABU की इस लापरवाही के कारण प्रतिवर्ष हजारों विद्यार्थियों का भविष्य दांव पर लगता है।

इसपर राजभवन ने सख्ती दिखाई है। राजभवन की ओर से कहा गया है कि हर हाल में सत्र(Session) को नियमित करें।

इसके लिए विशेषज्ञों की मदद लेकर Smart Planning तैयार करें। विद्यार्थियों के भविष्य से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

राजभवन की ओर से भेजा गया रिमाइंडर:

पिछले सप्ताह भी राजभवन की ओर से इसपर Reminder भेजा गया है।

BRABU में पिछले पांच वर्षों में चार कुलपति बदल गए, पर सत्र नियमित(Session Regular) करने की दिशा में किया गया कोई भी प्रयास अबतक सफल नहीं हुआ है।

आपको बता दें की BRABU के कॉलेजों में कक्षाओं की हालत दयनीय है।

BRABU के विभाग Registration से लेकर Exam की तैयारी नहीं कर पा रहे हैं।

सत्र का यह है हाल:

बताते चलें की स्नातक सत्र 2019-22 के पार्ट- वन की परीक्षा अबतक नहीं हुई है।

वहीं स्नातक 2020-23 में Admission लेने वाले छात्रों का एक वर्ष बीत जाने के बाद भी Registration ही चल रहा है। इसकी परीक्षा कब होगी इसका कोई अता-पता नहीं।

इसके अलावा P.G. सत्र 2020-22 में इसबार Admission लिया जाएगा।

छात्र-छात्राएं इस P.G. कोर्स में वर्तमान नहीं एक वर्ष पूर्व के सत्र में नामांकन लेंगे। कई Vocational Course भी Out of Track हैं।

प्रतिवर्ष दो लाख विद्यार्थी लेते हैं एडमिशन:

BRABU में प्रतिवर्ष स्नातक(U.G.) में 1.42 लाख, P.G. में 5350, Vocational में करीब 10 हजार के अलावा

Law, B.Ed. और Medical Course को मिलाकर करीब दो लाख विद्यार्थी Admission लेते हैं।

प्रतिकुलपति ने यह बताया:

BRABU के प्रतिकुलपति प्रो.रवींद्र कुमार ने बताया की सत्र नियमित(Session Regular) करना BRABU की प्राथमिकता में शामिल है।

राजभवन की ओर से सत्र नियमित(Session Regular) करने को लेकर एक सप्ताह पूर्व Reminder भेजा गया है।

इसी को ध्यान में रखकर सत्र स्नातक सत्र 2019-22 के विद्यार्थियों के पार्ट- वन की परीक्षा में Objective प्रश्नों को शामिल करने का प्रस्ताव तैयार हुआ है।

उन्होंने बताया की कोर्स विलंब नहीं हो इसके लिए अन्य योजनाओं पर भी विचार किया जा रहा है।

College/University + Naukri + Scholarship + अन्य महत्वपूर्ण खबरों से अपडेटेड रहने के लिए ग्रुप को JOIN कर हमें अभी Follow करें

TelegramJoin Now
WhatsappJoin Now
Sarkari NaukriJoin Now
InstagramFollow
Facebook PageFollow
Facebook GroupJoin Now


Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
500FollowersFollow
1,000SubscribersSubscribe

Latest Articles

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.