Friday, September 24, 2021

मुखिया चुनाव लड़ने के लिए इस शख्स ने रातोंरात रचा ली शादी, अब मैदान में उतरेगी नई-नवेली दुल्हन

GAYA : बिहार में पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू हो गया हैं. इसी बीच एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है जहां एक युवक ने सिर्फ इस कारण से बिना लगन के शादी कर ली, क्योंकि उसका जाति प्रमाण पत्र किसी वजह से नहीं बन पाया था.

यह मामला गया जिले के खिजरसराय प्रखंड के होरमा पंचायत के बिंदौल गांव की है जहां आदित्य कुमार उर्फ राहुल कुमार नाम के एक शख्स काफी लंबे समय से पंचायत चुनाव लड़ना चाह रहा था

लेकिन गांव के मुखिया बनने का उसका सपना उसे पूरा होता नज़र नहीं आ रहा था. दरअसल, नामांकन के लिए जाति प्रमाण पत्र (Cast Certificate) जरूरी था लेकिन उसका प्रमाण पत्र बन ही नहीं पाया था.

कारण के तौर पर यह बताया गया कि जमीन से संबंधित खतियान में उसके नाम के साथ दांगी शब्द का उल्लेख ही नहीं है. जिसके कारण उनका जाति प्रमाण पत्र नहीं बन सकता है.

सभी लेटेस्ट सरकारी नौकरी बिहार नोटिफिकेशन से अपडेटेड रहने के लिए इन ग्रुपों को अभी जॉइन करें.

Telegram GroupJoin Now
Facebook GroupAvailable Soon
Whatsapp GroupJoin Now

इसके बाद उसे एक अजीबोगरीब उपाय सूझा. उसने शादी करने का फैसला कर लिया. और राहुल ने बिना किसी लगन और बैंड-बाजे के ही सूर्य मंदिर में जाकर शादी रचा ली.

राहुल की पत्नी सरिता कुमारी खिजरसराय प्रखंड के नौडिहा गांव की रहने वाली हैं. सूर्य मंदिर में हुए इस शादी में वर-वधु दोनों पक्ष के लोग भी मौजूद थे. 

दरअसल, दुल्हन के पास जाति प्रमाण पत्र हैं. इसलिए वह अब चुनाव लड़ सकेगी. राहुल ने अपनी नई-नवेली पत्नी को मुखिया पद के लिए नामांकन कराने का फैसला किया हैं.

बता दें कि राहुल चुनाव लड़ने की तैयारी को लेकर काफी दिनों से गांव-गांव, टोला-टोला घूम रहा था. लेकिन अचानक से अपने जाति प्रमाण पत्र नहीं बन पाने की खबर सुनकर वह काफी परेशान हो गया.

राहुल को हर हाल में यह चुनाव लड़ना ही था. अब इस शादी को चुनावी शादी कहा जा रहा है और इसकी चर्चा हर तरफ हो रही हैं. 

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Business

NAUKRI

ASTROLOGY

error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.