Wednesday, July 28, 2021

Bihar : इंटर पास कर चुके छात्रों के लिए अच्छी खबर, अब कर सकते हैं अमीन का कोर्स, जाने पूरी डिटेल

Sarkari Naukri, एडमिट कार्ड, परीक्षा और रिजल्ट से संबंधित समाचार अब इस टेलीग्राम ग्रुप में डाला जाएगा, इसे अभी जॉइन करें
Telegram Group : Join Now

Bihar Sarkari/Private Job Opportunity : राज्य सरकार स्कूली शिक्षा में अमानत (precious) का कोर्स लागू करेगी. इसके एक पाठ या फिर विषय के बारे में पढ़ाया जाएगा.

अमानत (precious) को माध्यमिक शिक्षा का हिस्सा बनाया जा सकता हैं. इससे बच्चों में अमानत (precious) के बारे में जानकारी बढ़ेगा.

शुक्रवार को बिहार मुक्त विद्यालयी शिक्षण एवं परीक्षा बोर्ड (Bihar Open Schooling and Examination Board) के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहीं.

सचिवालय स्थित सभागार के कार्यक्रम में मंत्री ने कहा कि भूमि विवाद (land dispute) राज्य की एक प्रमुख समस्या हैं. इसमें अमीनों की कमी मुख्य वजहों में से एक है.

बिहार मुक्त विद्यालयी शिक्षण एवं परीक्षा बोर्ड (Bihar Open Schooling and Examination Board) द्वारा विकसित अमानत के कोर्स से अमीनों की कमी को दूर करने में काफी मदद मिलेगी.

उक्त मौके पर शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने कहा कि बिहार कृषि प्रधान राज्य (Bihar agricultural state) हैं. यहां की जनसंख्या काफी घना हैं.

ऐसे में भूमि का महत्व भी काफी ज्यादा बढ़ जाता हैं. भूमि विवादों के समाधान में अमानत का कोर्स काफी ज्यादा सहायक साबित होगा.

राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग (Revenue and Land Reforms Department) के अपर मुख्य सचिव विवेक कुमार ङ्क्षसह ने कहा, अमानत कोर्स करने वाले युवाओं को Sarkari Naukri एवं Private Naukri दोनों क्षेत्र में रोजगार के अवसर विकसित होंगे.

छह माह का होगा कोर्स

बिहार मुक्त विद्यालयी शिक्षण एवं परीक्षा बोर्ड (Bihar Open Schooling and Examination Board) के मुख्य कार्यकारी पदाधिकारी दिनेश ङ्क्षसह विष्ट ने कहा,

अमानत कोर्स पूरे छह माह का होगा. इसके लिए 10 हजार रुपये का शुल्क रखा गया हैं. बता दें कि इंटर पास छात्र ही अमीन का कोर्स कर सकते हैं.

400 घंटे का होगा कोर्स

Board द्वारा तैयार यह पूरा कोर्स 400 घंटे का होगा. इसमें 160 घंटे का सैद्धांतिक एवं 240 घंटे का प्रायोगिक पढ़ाई होगा. अमानत कोर्स करने वाले छात्रों का अगर गणित कमजोर है

तो उनको बृज या एडवांस बृज कोर्स (Brij or Advance Brij Course) कराया जाएगा. बता दें कि अमानत कोर्स करने वाले छात्रों की वैद्यता पांच वर्षों तक रहेगी. इस अवधि के दौरान परीक्षा पास करने के लिए छात्रों को कुल नौ मौके दिए जाएंगे.

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Latest Article

RECIPE

NAUKRI NOTIFICATION

ASTROLOGY

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.