Saturday, September 25, 2021

हद हैः पिता ने अपनी ही शादीशुदा बेटी से मांगी रंगदारी, रकम नहीं देने पर उठा दिया यह कदम…

GAYA: आपने अक्सर ऐसी खबर तो सुना ही होगा, जिसमें अपराधी किसी व्यक्ति से रंगदारी (extortion) मांगता हैं और रकम नहीं देने पर उसे जान से मारने की धमकी दे देता हैं. लेकिन गया से अपने आप में काफी हैरान कर देने वाली खबर आई है,

जहां एक पिता ने बेटी से रंगदारी (extortion) की मांग कर डाली. इतना ही नहीं, वह जमीन के लिए अपनी बेटी को लगातार प्रताड़ित कर रहे थे. बीते दिनों हद पार करते हुए सनकी पिता बेटी सहित अपनी नातिन पर भी हमला कर दिया.

इस सनसनीखेज खबर से आसपड़ोस सहित पुलिस भी काफी हैरान है. इंसान जमीन के लिए कैसे एक दूसरे के खून का प्यासा हो जाता है, यह इस खबर को पढ़ने के बाद आपको पता चल जाएगा.

यह खबर गया जिले के मगध मेडकल थाना क्षेत्र के नीमा गांव की हैं. यहां के निवासी भुनेश्वर यादव पर उनकी बेटी ने गंभीर आरोप लगाते हुए स्थानीय थाना में एफआईआर (FIR) दर्ज कराई हैं.

एफआईआर (FIR) में पूनम ने इस बात का जिक्र किया हैं कि जमीन के लिए उनके पिता ने कई बार उसके साथ मारपीट की हैं. इतना ही नहीं, भुनेश्वर यादव ने बेटी-दामाद से 10 लाख रुपये रंगदारी की भी मांग की हैं.

पूनम ने यह बताया कि उनकी शादी बोधगया थाना क्षेत्र के धनवा पंचायत के पुतरिया गांव निवासी रामश्रय कुमार यादव से हुआ है. उनके पति भारतीय सेना में जेसीओ पद पर कार्यरत हैं.

वारदात के संबंध में रामश्रय कुमार यादव ने यह बताया कि हमारे ससुर अपनी बच्ची की शादी के लिए हमसे कुछ रकम उधार लिए थे. उसके बदले उन्होंने नीमा आहार पर पत्नी पूनम कुमारी के नाम पर जमीन दी.

जिसकी अब राजस्व की रसीद (receipt of revenue) भी कट रही हैं. यहां तक की जमीन की दिल भी पत्नी पूनम कुमारी के नाम से हुआ है.

अब ससुर भुनेश्वर यादव का मन बदल गया हैं और वें लगातार पूनम पर दबान बनाकर कह रहे हैं कि वह उस जमीन को छोड़ दें. आप यहां से चले जाओ. अक्सर मेरी पत्नी को ससुर मारते-पीटते रहते हैं.

बीते दिन उन्होनें तो हद ही पार कर दी, वे पूनम और उसकी बेटी पर हमला कर दिया. जिसके बाद ही मामले को थाना में दर्ज कराया गया. वहीं पुलिस ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए पिता सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया हैं.

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Business

NAUKRI

ASTROLOGY

error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.