Tuesday, June 15, 2021

बिहार बोर्ड मैट्रिक और इंटर के 30 लाख विद्यार्थियों का डाटा जोड़ेगा अब ई-ऑफिस से, विद्यार्थियों को होगें यह फायदे

PATNA: बिहार बोर्ड(BSEB) मैट्रिक और इंटर के 30 लाख विद्यार्थियों का अब “Data” पूरी तरह से “Safety” रहेगा।

सभी विद्यार्थियों के डेटा को “E- Office” से जोड़ा जा रहा:

बिहार बोर्ड यानी BSEB की सभी विद्यार्थियों के “Data” को “E- Office” से जोड़ा जा रहा है। “E- Office” से जुड़ने के बाद विद्यार्थियों का सारा काम स्कूल से ही हो पायेगा।

सरकारी नौकरी/परीक्षा/रिजल्ट से संबंधित नौकरी समाचार पाने के लिए यहां क्लिक कर अभी जॉइन हो जाए.
Telegram : Join
Facebook : Join

बता दें कि सभी स्कूल के छात्रों का “Data” सुरक्षित रहे, इसके लिए बिहार बोर्ड यानी BSEB की ओर से “E- Office” बनाया गया है।

E- Office” में सूबे के सभी स्कूलों को जोड़ा गया है।

रजिस्ट्रेशन से लेकर परीक्षा फॉर्म “E- Office” से भरा जायेगा:

इससे 9वीं से 12वीं तक के “Registration” से लेकर “Examination Form” तक ई-ऑफिस(E- Office) के माध्यम से भराया जायेगा।

पिछले कई सालों से चल रही ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म भराने की प्रक्रिया:

ज्ञात हो कि मैट्रिक और इंटर परीक्षा के “Online Examination Form” भराने की प्रक्रिया पिछले कई सालों से चल रही है। ऐसे में कई बार छात्र और छात्राओं का “Data Leak” हो जाता था।

“Data Leak” कर बिहार बोर्ड यानी BSEB के नाम पर पैसे मांग कर पास करने का प्रलोभन दिया जाता था।

चूंकि कई स्कूलों द्वारा “Registration” और “Examination Form” साइबर कैफे (Cyber Cafe) से भराया जाता था। इससे स्कूल का डेटा साइबर कैफे (Cyber Cafe) से लीक हो जाता था।

लेकिन अब इन समस्याओं से छात्र बच पायेंगे। अब स्कूल का सारा “Data Saftey” रहेगा।

सप्ताह भर का काम चंद घंटों में होगा:

अभी तक बिहार बोर्ड यानी BSEB की ओर से स्कूलों के पास हर काम “DEO Office” के माध्यम से किया जाता था। इसमें लगभग एक सप्ताह से 15 दिन लगते थे।

लेकिन अब यह काम और आसान हो जायेगा। अब सप्ताह भर का काम एक दिन में ही किया जा सकेगा।

बिहार बोर्ड यानी BSEB की ओर से “E- Office” के माध्यम से “Online” सीधे स्कूल को भेजा जायेगा।

लेटलतीफी पर भी BSEB की रहेगी सीधी नजर रहेगी:

“E- Office” से अब स्कूल लेटलतीफी या लापरवाही भी नहीं कर पायेगा।

स्कूल की हर गतिविधि पर बिहार बोर्ड यानी BSEB द्वारा स्कूलों को चिन्हित किया सीधी नजर जा सकेगा कि कौन-सा स्कूल समय पर काम करके नहीं दिया है।

इससे बिहार बोर्ड यानी BSEB का काम आसान हो जायेगा।

छात्रों को होगें यह फायदे:

  1. School, DEO Office और BSEB के सभी काम पेपरलेस होंगे।
  2. School और BSEB बोर्ड के बीच होगा सीधा संवाद।
  3. स्कूल द्वारा ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म भरने के बाद छात्रों को दिखाया जा सकेगा।
  4. छात्रों के नाम, अभिभावकों के नाम, Date of Birth आदि में सुधार स्कूल स्तर पर ही किया जा सकेगा।
  5. Registration व Examination Form अब छात्रों के सामने स्कूल द्वारा भरा जायेगा। इससे गलती कम होगी।
  6. ऑनलाइन काम के लिए अब स्कूलों को “Cyber Cafe” नहीं दौड़ना पड़ेगा।

Bihar Board + Naukri + Scholarship + अन्य महत्वपूर्ण खबरों से अपडेटेड रहने के लिए ग्रुप को JOIN कर हमें अभी फॉलो करें

Facebook GroupJoin Now
Telegram Join Now
Sarkari NaukriJoin Now
InstagramFollow
Facebook PageFollow
Whatsapp GroupJoin Now

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
500FollowersFollow
1,000SubscribersSubscribe

Latest Articles

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.