Saturday, February 27, 2021

Good News : 75 फीसदी हाजिरी की शर्त हटी, सभी विद्यार्थियों को मिलेगा योजना की राशि

BIHAR : कोरोना वायरस की वजह से भले ही वर्तमान शैक्षिक सत्र 2020-21 बुरी तरह से प्रभावित रहा हो, लेकिन बिहार राज्य के सभी Sarkari School में नामांकित सभी बच्चों को विभिन्न लाभुक योजनाओं का राशि मिल सकता हैं.

क्योंकि शिक्षा विभाग के तरफ से मिली जानकारी के अनुसार लाभुक योजनाओं में विद्यार्थियों की 75% हाजिरी की अनिवार्यता को सिर्फ इस बार के लिए हटाने का मन बनाया गया है.

ऐसे में क्लास पहली से आठवीं तक सभी नामांकित करीब 1.66 करोड़ छात्र-छात्राओं को पोशाक का पैसा मिलेगा. साथ ही साथ नौवीं के सभी विद्यार्थियों को साइकिल के पैसे भी मिलेंगे, और 9th से 12th तक की सभी छात्राओं को पोशाक की राशि मिलेगी.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के कारण राज्य के सभी School 14 March से बंद हैं. इससे पिछले साल की वार्षिक मूल्यांकन की परीक्षा भी नहीं हुई और बच्चे बिना परीक्षा के ही अगली कक्षा में प्रमोट कर दिए गए.

28 September से 9th से 12th तक की परामर्श कक्षाएं 33 फीसदी उपस्थिति के साथ आरंभ की गई तो उसमें भी अनुपस्थिति की अनिवार्यता नहीं था. ऐसे में इस साल लाभुक Yojanao के लिए हाजिरी को आधार ही नही बनाया जा सकता है.

Education Department ने Admission के आधार पर लाभुक Yojanao की राशि बच्चों के Bank Account में भेजने की अनुमति के लिए प्रस्ताव वित्त विभाग (Finance Department) को भेजा है.

वित्त विभाग (Finance Department) की मंजूरी के बाद इसे राज्य मंत्रिमंडल (Cabinet) की स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा. शिक्षा के प्रधान सचिव संजय कुमार ने इस बात की पुष्टि की हैं.

कहा कि शीर्षस्तर से मंजूरी मिलने के उपरांत बच्चों के खाते में Yojana की राशि उनके Bank Account में भेज दी जाएगी

करीब दो करोड़ को मिलेगा लाभ

लाभुक Yojanao में पिछले शैक्षिक सत्र की राशि शिक्षा विभाग ने 31 मार्च 2020 तक भेज दी थी.

तब प्रारंभिक कक्षाओं के लगभग 1.05 करोड़ बच्चों के Bank Account में 3103 करोड़ भेजी गई थी.

अबकी यदि सभी नामांकितों छात्र-छात्राओं को राशि दी गई तो इसका लाभ लगभग 2 करोड़ बच्चों को मिलेगा.

राशि भी कम से कम डेढ़ गुना हो जाएगा. देखना होगा कि इतनी बड़ी राशि खर्च करने की मंजूरी मिल पाती है या नहीं.

खबर के बाद बढ़ी विभाग की सक्रियता

आपको बता दें की ‘Hindustan Paper’ ने 7 December के अंक में लाभुक Yojanao का पैसा नहीं मिलने को ‘शैक्षिक सत्र के आठ माह बीते, बच्चों को नहीं मिले पोशाक के पैसे’ शीर्षक के साथ अपने पेपर में प्रमुखता से जगह दी थी.

माना जा रहा है कि उसके बाद से इस दिशा में विभाग की सक्रियता बढ़ी हैं. नामांकित बच्चों का नाम मेधा सॉफ्ट में अपलोड किया जा रहा हैं.

विभाग का यह दावा हैं कि 15 December तक सभी बच्चों के नाम, ब्यौरा के साथ दर्ज कर लिया जाएगा. उसके बाद दर्ज ब्योरे के अनुसार राशि बच्चों के Bank Account में भेज दी जाएगी.

अपना विज्ञापन लगवाने के लिए – यहां क्लिक करें

इसी तरह की अन्य महत्वपूर्ण खबरें पाने के लिए ग्रुप को Join कर पेज को LIKE जरूर करें

FB Group : JOIN | FB Page : Click Here

12925a9378c0ce72ce930f3778bec96c?s=96&d=blank&r=g
Near Newshttp://nearnews.in
Near News is a Digital Media Website which brings the latest updates from across Bihar University, Muzaffarpur, Bihar and India as a whole.

Related Articles

Stay Connected

33,257FansLike
500FollowersFollow
1,000SubscribersSubscribe

Latest Articles

- Advertisement -
error: Copyright © 2020 All Rights Reserved.