Friday, June 25, 2021

पापा मैं मर जाऊंगी, यहां से ले जाओ… कुव्यवस्था पर कोरोना पीड़ित बेटी ने लगाई यह गुहार?

MUZAFFARPUR : पापा…, प्लीज, मुझे आकर यहां से ले चलों, कोरोना से बाद में, लेकिन यहां की अव्यवस्था से मैं पहले ही मर जाऊंगी. दो घंटा हो गया कोई देखने तक नहीं आया हैं.

पाप यहां वॉशरूम में पानी तक नहीं हैं. प्लीज, मुझे यहां से ले जाओ plz… 20 वर्षीया छात्रा ने रविवार को यह गुहार अपने पापा से एक निजी अस्पताल में भर्ती होने के चार घंटे बाद लगा रही थी.

अस्पताल ने दोपहर के करीब दो बजे उनकी बेटी को पहले 50 हजार रुपये जमा कराकर इमरजेंसी में भर्ती करवाया, वहां का हाल यह हैं कि दो घंटे तक छात्रा को देखने कोई डॉक्टर, नर्स यहां तक कि की कर्मी तक नहीं आया.

इस भयावह नाजुक स्थिति में भी अस्पताल वाले अपना खेल खेलने से बाज नहीं आ रहा हैं. व्यवस्था की संवेदनहीनता से हर दिन लोग जूझ रहे हैं.

बेबसी और बदहाल व्यवस्था के बीच ऐसा ही एक परिवार रविवार को जूझता रहा. मिठनपुरा इलाके के रहने वाले इस परिवार ने बताया कि चार दिन पहले उन्होंने अपनी बेटी का टेस्ट कराया तो रिपोर्ट निगेटिव आया.

लेकिन रविवार को ऑक्सीजन का लेबल घटने लगा तो हम घबरा गए. पहले बैरिया स्थित एक निजी अस्पताल ले गए. वहां बताया गया कि कोरोना वायरस का इलाज यहां नहीं होता हैं.

यह भी पढ़े :  मुज़फ्फरपुर : लगातार 9वें दिन भी जारी रहा एलआईसी अभिकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन

इसके बाद मेडकिल कॉलेज से आगे स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में गए. वहां कहां गया कि पहले 50 हजार रुपये जमा करवाओ तभी भर्ती करेंगे. पैसे हमने जमा करा दिया तो कहा कि आपलोग यहां से जाइए.

दो घंटे बाद बेटी ने फोन कर बताया कि अब तक मुझे बैठाकर रखा है. कोई देखने तक नहीं आया हैं. इसके बाद हमलोग पहुंचे वहां हंगामा किया तब जाकर डॉक्टर को बुलाया गया.

महिला-पुरुष के लिए एक वाशरूम, साबुन तक नहीं

छात्रा ने बताया कि जहां मुझे भर्ती किया गया हैं, वहां सात से आठ पुरुष और दो महिलाएं भी थीं. सभी के लिए एक ही वाशरूम. और वाशरूम में साबुन तक नहीं.

अगर मैं वहां पर रहती तो दो दिन की बजाए एक ही दिन में मर जाती. उसके बाद पिता ने कहा कि हम दोबारा गए और शाम के करीब छह बजे बेटी को घर ले आए.

यह भी पढ़े :  मुज़फ्फरपुर : लगातार 9वें दिन भी जारी रहा एलआईसी अभिकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन

एक तरफ तो इस वायरस की मार और उससे भी अधिक संवेदनहीनता और साथ ही अव्यवस्था की मार. कहां जाएं हमलोगा….

Muzaffarpur से संबंधित सभी खबरों से अपडेटेड रहने के लिए यहां क्लिक कर अभी जॉइन हो जाएं
Telegram : Join
Facebook : Like

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Latest Article

RECIPE

NAUKRI NOTIFICATION

ASTROLOGY

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.