Friday, June 25, 2021

कड़कनाथ मुर्गा आपके लिए बन सकता हैं कमाई का एक अच्छा सोर्स, पढ़ें पूरा बिजनेस प्लान

Kadaknath Chicken : जो लोग नॉनवेज खाते हैं या फिर जो नहीं भी खाते हैं उन्होंने कड़कनाथ मुर्गा के बारे में जरूर सुना होगा. काले रंग के इस मुर्गा की खास बात यह हैं

की इस मुर्गे का आंख, हड्डियां और यहां तक कि इसका खून भी काला ही होता हैं. यह मुर्गा दिखने में पूरी तरह से बिल्कुल काला होता है, जिसकी अब मार्केट में डिमांड काफी बढ़ रहा है.

कहा जाता हैं कि इस काले मुर्गे में कई औषधीय गुण हैं और कई अन्य वजहों से भी इसे पसंद किया जा रहा हैं. आप इस मुर्गे का इस्तेमाल करते हैं या नहीं, ये तो अलग बात हैं. लेकिन, Business के नजरिए से यह आपके लिए कमाई का एक अच्छा ऑप्शन हैं.

जी हां, अगर आप कड़कनाथ मुर्गा का व्यापार शुरू करते है तो आप काफी अच्छा पैसा कमा सकते हैं. आप कड़कनाथ मुर्गा का फॉर्म खोल सकते हैं

और देश के अलग अलग हिस्सों में भेजकर अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं.

तो चलिए हम जानते हैं कि आखिर क्यों कड़कनाथ मुर्गा से कमाई किया जा सकता हैं और यह अन्य पोल्ट्री फार्म से ज्यादा फायदेमंद क्यों है?

बता दें कि वैसे तो कड़कनाथ मुर्गे की सबसे ज्यादा डिमांड मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले के रहती हैं और इनकी सबसे ज्यादा चर्चा भी होती है.

हालांकि, पहले मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में सीमित रहने वाला यह कड़कनाथ मुर्गा का व्यापार गुजरात, महाराष्ट्र, उत्तरप्रदेश और हैदराबाद जैसे राज्यों में भी अब हो रहा है.

कैसे शुरू कर सकते हैं?

इसके लिए आपको सबसे पहले एक बड़ी जगह की आवश्यकता पड़ेगी. अगर आपके पास अभी जमीन नहीं हैं तो आप फॉर्म किराए पर ले सकते हैं.

बता दें कि एक मुर्गे के लिए डेढ़ स्कवायर फीट की आवश्यकता पड़ती है. आप किराए पर भी फॉर्म का जगह ले सकते हैं. इसके बाद आप इनके उत्पादन पर काम कर सकते हैं.

देखभाल है आसान

खास बात यह हैं कि इसकी देखभाल आसान होता हैं, इस वजह से आपका कोस्ट काफी कम रहता है. दरअसल, कड़कनाथ मुर्गा की खास बात यह हैं कि यह जितनी जरूरत होता है यह उतना ही खाता हैं

और यह एक्स्ट्रा वेस्ट नहीं करता. ऐसे में आपको सिर्फ एक बार इसके फीडर कक भरके रखना होता हैं. इसके बाद इसे जब जरूरत होती है तो ये खा लेता हैं और उसके बाद यह घूमता रहता है.

यह भी पढ़े :  इंतजार खत्म! पीजी सत्र 2020-22 में एडमिशन के लिए फर्स्ट मेरिट लिस्ट आज, यहां से कर पाएंगे डाउनलोड

इसके लिए आपको बस वैक्सिनेशन आदि का ध्यान रखना होता हैं. इसे अनाज, सिंपल घास आदि दिया जा सकता हैं. साथ ही कड़कनाथ मुर्गा के लिए स्पेशल फीड तैयार कर सकते हैं, जिसमें 50 मक्का, गेंहूं, मछली का चूरा, सोयाबीन आदि शामिल होता है.

बिजनेस है आसान

दरअसल, अब सरकारें भी इसके लिए मदद कर रही हैं. इसके लिए आप कृषि विज्ञान केंद्र में जाकर चूजा ले सकते हैं और उनसे आप अपने कारोबार को आगे बढ़ा सकते हैं.

साथ ही आपको इन्हें ज्यादा दिनों तक पालने की आवश्यकता नहीं रहती है, क्योंकि साढ़े तीन से चार महीनों में चूजा बिकने को तैयार हो जाता है.

यह भी पढ़े :  बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के Modal Paper से पहले Market में आ गया स्नातक पार्ट- वन का Guess Paper, कीमत इतने रुपये

बता दें कि छत्तीसगढ़ से मिली जानकारी के मुताबिक, यहां पर 53 हजार रुपये में एक हजार चूजा, 30 मुर्गियों का शेड और 6 महीने का दाना दिया जाता हैं.

और साथ ही टीकाकरण और कड़कनाथ मुर्गा के स्वास्थ्य की देखभाल की जिम्मेदारी भी सरकार देती हैं.

कितना होता है मुनाफा?

डीडी न्यूज के मुताबिक, कई ऐसे लोग हैं जो इससे काफी अच्छा पैसा कमा रहे हैं. बताया जाता हैं कि इससे आप आराम से लागत की दो से तीन गुना तक मुनाफा कमा सकते हैं

और बता दें कि अभी बहुत कम लोग ही इस बिजनेस में हैं, जिसकी वजह से कड़कनाथ मुर्गा फार्मिंग में कमाई का काफी स्कोप है.

वहीं अगर इसके कीमत की बात करें तो सामान्य मुर्गे के मुकाबले कड़कनाथ मुर्गे की कीमत काफी ज्यादा होता है. पटना में इसकी कीमत 900 रुपये से 1200 रुपये प्रति किलो तक यह मिलता हैं.

अन्य महत्वपूर्ण खबरों से अपडेटेड रहने के लिए यहां क्लिक कर हमें अभी फॉलो करें

TelegramJoin Now
FacebookFollow
Sarkari NaukriJoin Now
InstagramFollow
Facebook GroupJoin Now

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Latest Article

RECIPE

NAUKRI NOTIFICATION

ASTROLOGY

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.