Friday, June 25, 2021

भारत की दमदार देसी वैक्सीन: अमेरिका ने भी माना लोहा, दावा- कोरोना के 617 वेरिएंट को बेअसर करने में सक्षम है ‘Covaxin’

Corona Vaccine : भारत में कोरोना वायरस के दूसरी लहर की तबाही के बीच स्वदेशी Covid टीका Covaxin को लेकर अच्छी खबर आया हैं.

देश में जब Corona के खिलाफ जंग में हथियार के तौर पर देसी वैक्सीन Covishield और Covaxin को आपातकालीन मंजूरी दिया गया था,

उस वक्त इस पर सवाल भी उठाए गए थे. लेकिन अब अमेरिका ने भी भारत की स्वदेशी वैक्सीन Covaxin का लोहा माना हैं.

अमेरिका के शीर्ष महामारी रोग विशेषज्ञ और व्हाइट हाउस के मुख्य चिकित्सा सलाहकार डॉ. एंथनी फौसी ने दावा किया हैं कि Corona के 617 वैरिएंट को बेअसर करने में Covaxin कारगर हैं.

डॉ. एंथनी ने कहा, भारत में एक बार फिर से महामारी बेकाबू हो गया हैं. भारत में Covaxin लगवाने वाले लोगों के डेटा से Vaccine की असर के बारे में पता चला हैं.

इसलिए भारत में मुश्किल हालात होने के बावजूद Covaxin काफी अहम साबित हो सकता हैं.

‘Covaxin’ डबल म्यूटेंट खिलाफ भी कारगर: आईसीएमआर

बता दें कि इससे पहले, Indian Council of Medical Research (ICMR) ने 20 अप्रैल को कहा था कि Covaxin डबल म्यूटेंट Corona वैरिएंट के खिलाफ भी प्रोटेक्शन देता हैं.

अपने अध्ययन के आधार पर Indian Council of Medical Research (ICMR) ने कहा कि ब्राजील वैरिएंट, यूके वैरिएंट और दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट पर भी Covaxin असरदार है

यह भी पढ़े :  मुज़फ्फरपुर : लगातार 9वें दिन भी जारी रहा एलआईसी अभिकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन

और इन वैरिएंट के खिलाफ भी यह प्रोटेक्शन देता हैं. देश में चल रही Corona वायरस के दूसरी लहर के लिए इन वैरिएंट्स को जिम्मेदार ठहराया जा रहा हैं.

दरअसल, देश के 10 राज्यों में सामने आये डाटा के मुताबिक डबल म्यूटेंट Corona वैरिएंट सबसे ज्यादा घातक हैं. यह न केवल काफी तेजी से ट्रांसमिट होता हैं, बल्कि बहुत कम समय में यह बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाता हैं.

क्या है वैरिएंट 617 ?

भारत में Corona के मामलों में आई अचानक तेजी की वजह 617 वैरिएंट को माना जा रहा हैं. इस वेरिएंट की सबसे ज्यादा मामला दिल्ली और महाराष्ट्र में आ रहा है.

Covaxin : क्लिनिकल ट्रायल में 78 फीसदी तक प्रभावी

Cocina Vaccine बनाने वाली हैदराबाद की कंपनी भारत Biotech और ICMR ने Covaxin के तीसरे फेज की अंतिम क्लीनिकल ट्रायल के रिपोर्ट में कहा था

यह भी पढ़े :  कम पैसें में शुरू करे बंपर कमाई वाली बिजनेस, केंद्र सरकार करेगी मदद होगा मोटा मुनाफा

कि Covaxin क्लीनिकली 78 फीसदी और Corona से गंभीर रूप से प्रभावित मरीजों पर 100 फीसदी तक असरदार हैं.

कंपनी ने अपने विश्लेषण में Corona के 87 लक्षणों पर रिसर्च किया था. Vaccine को लेकर अंतिम रिपोर्ट जून में जारी की जाएगी.

College/University + Naukri + Scholarship + अन्य महत्वपूर्ण खबरों से अपडेटेड रहने के लिए ग्रुप को JOIN कर हमें अभी Follow करें

TelegramJoin Now
WhatsappJoin Now
Sarkari NaukriJoin Now
InstagramFollow
Facebook PageFollow
Facebook GroupJoin Now

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Latest Article

RECIPE

NAUKRI NOTIFICATION

ASTROLOGY

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.