Friday, June 25, 2021

मंडप में बैठने से पहले बोला लड़का, कुंडली में गुण तो मिल गए; कोरोना रिपोर्ट दिखाइए

ARWAL : कोरोना की यह दूसरी लहर ने रिश्तों पर भी खासा प्रभाव डाल रहा हैं. किसी तरह का संक्रमण न फैले इसके लिए शादी समारोहों को आयोजित करने वाले परिवार काफी एहतियात बरत रहे हैं.

मेहमानों की सूची छोटा कर रहे हैं.अरवल के एक परिवार ने कुछ ऐसी ही सजगता दिखाई कि चर्चा आम हो गया.

दरअसल लड़के वालों ने वधु की कोरोना जांच रिपोर्ट की मांग कर दी. स्वजनों ने भी लड़की का कोरोना टेस्ट करवा दिया.

दोनों हैं इजीनियर, आठ मई को शादी

दरअसल, अरवल प्रखंड क्षेत्र के चकिया निवासी व्यक्ति की बेटे की शादी सासाराम जिले की रहने वाली लड़की से पक्की हुई. बेंगलुरु में लड़की सॉफ्टवेयर इंजीनियर है,

इधर लड़का भी इंजीनियर हैं. दोनों का विवाह आठ मई को होना तय है. इधर, लड़की वालों के घर शादी की तैयारी चल रही थी कि लड़के वालें के यहां से लड़की पक्ष के मोबाइल पर एक फोन आया.

फोन पर कहा गया कि कुंंडली में गुण तो मिल गए, अब लड़की का कोरोना टेस्ट कराकर रिपोर्ट भेजिए. लड़की पक्ष होने के कारण परिवार वालें न भी नहीं बोल पाए.

परिवार ने लड़की का कोरोना की जांच के लिए सैंपल दे दिया, वहीं वधू पक्ष का कहना हैं कि, हिंदू रस्म-रिवाज के अनुसार लोगों के यहां हमेशा से यह परंपरा थी कि

शादी से पहले दूल्हा-दुल्हन की कुंडली मिलान किया जाता था. यह कैसा समय आ गया हैं कि, शादी से पहले कोरोना की जांच रिपोर्ट मिलान कर रहे हैं.

यह भी पढ़े :  इंतजार खत्म! पीजी सत्र 2020-22 में एडमिशन के लिए फर्स्ट मेरिट लिस्ट आज, यहां से कर पाएंगे डाउनलोड

कई रस्मों को बदल कर रख दिया है कोरोना

कोरोना के इस महामारी ने शादी समारोह में कई रस्में को बदल कर रख दिया हैं. कोरोना के संक्रमण से पूर्व जहां लोग शादी समारोह में ज्यादा से ज्यादा लोगों को आमंत्रित करते थे,

वहीं अब परिस्थिति बिल्कुल उलट हैं, इस पर अब पाबंदी लगा दी गई है. एक तो लोग मेहमानों की संख्याओं को कम कर रहे हैं. वहीं आमंत्रण पत्र को मोबाइल से ही भेजा जा रहा हैं.

इसके अलावें लोग खाना बनाने वाले को बुक करने से पहले इस बात की भी गारंटी ले रहे हैं कि उनके यहां काम करने वाला कोई भी कर्मी कोरोना पॉजिटिव तो नहीं हैं.

मास्क देकर बारात का हो रहा स्वागत

कोरोना के इस संक्रमण से पूर्व शादी के मौकों पर बारात के दरवाजे पर लगते ही घरवाले इत्र से स्वागत करते थे. इस दौरान फूल भी भेंट किया जाता था.

यह भी पढ़े :  इस स्कीम में सिर्फ जमा करें 50 हजार और पाएं 3300 रुपए Monthly Pension, ये रही पूरी डिटेल

कोरोना संक्रमण ने इन सभी रस्मों पर ब्रेक लगा दिया हैं. अब इत्र की जगह सैनिटाइजर और स्वागत के लिए दिए जाने वाले फूल की जगह मास्क देकर प्रवेश करवाया जा रहा हैं.

इतना ही नहीं गले मिलने की जगह अब हाथ जोड़कर ही एक-दूसरे का अभिवादन करते वर और वधू पक्ष के लोग दिख रहे हैं.

अन्य महत्वपूर्ण खबरों से अपडेटेड रहने के लिए यहां क्लिक कर हमें अभी फॉलो करें

TelegramJoin Now
FacebookFollow
Sarkari NaukriJoin Now
InstagramFollow
Facebook GroupJoin Now

Related Articles

Stay Connected

34,988FansLike
2,522FollowersFollow
1,121SubscribersSubscribe

Latest Article

RECIPE

NAUKRI NOTIFICATION

ASTROLOGY

- Advertisement -
error: Copyright © 2021 All Rights Reserved.